झारखण्ड पलामू राजनीति

गोलीचालन के विरोध में व्यव्सायी संघ और छत्तरपुर विकास मंच ने एसडीपीओ को सौंपा ज्ञापन

छत्तरपुर को अपराधमुक्त बनाने और दोषियों की गिरफ्तारी सहित पांच सूत्री ज्ञापन सौंपा गया

छतरपुर: (पलामू) खबर आजतक/ छतरपुर में बढ़ते अपराध को रोकने और अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई को लेकर
छतरपुर के लोगों में उबाल है। एक दिन में दो दो गोलीचालन की घटना से लोगों में दहशत के साथ आक्रोश व्याप्त है।
छतरपुर के इलाके में अमन चैन कायन रखना और अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई को लेकर व्यवसाइ संघ के अध्यक्ष बीरेंद्र प्रसाद और छतरपुर विकास मंच के संस्थापक अध्यक्ष सह समाजसेवी अरविंद गुप्ता चुनमुन के द्वारा पांच सूत्री ज्ञापन सौंप कर कार्रवई की मांग की है, वहीं इलाके में शांतिपूर्ण और अमन चैन के साथ रहने वाले छतरपुर इलाके को किसी की नज़र लग गयी है।

हालिया दिनों हुए आपराधिक घटनाओं ने प्रशासन की विफ़लता भी उजागर की है, लोगों में दहशत के साथ साथ आक्रोश भी व्याप्त है, 30 अप्रैल को छतरपुर में हुए संतोष साहू गोलीकांड और संजय डोम की हत्या कांड की एसआईटी गठन कर जांच कराई जाए और अपराधियों को कड़ी सजा दिलाई जाए।
जपला मोड़ और सरैडीह मोड़ पर सीसीटीवी कैमरा का अधिष्ठापन शीघ्र सुनिश्चित कराइ जाए। शहर के विभिन्न संवेदनशील जगहों पर खास कर जपला मोड़ और सरैडीह मोड़ पर पुलिस बलों की तैनाती सुनिश्चित की जाए।
गत माह पूर्व मदनपुर निवासी नरेश ठाकुर, हरिहरगंज निवासी शुभम गुप्ता, लोहराही निवासी धीरज प्रजापति के हत्या के आरोपियों को गिरफ्तार किया जाए।
नगर के विभिन्न इलाकों में सम्भावित अपराध को रोकने हेतु पीसीआर की सघन आवाजाही सुनिश्चित कराई जाये।

ज्ञापन में कहा गया है कि अगर उपरोक्त समस्या के मद्देनजर पुलिस ने कार्रवाई नहीं की तो व्यवसायी और नगररवासी चरणबद्ध आंदोलन करने को विवश हो जाएंगे। वहीं एसडीपीओ नौशाद आलम ने आश्वस्त किह की अपराधी की शिनाख्त कर ली गयी है और वह जल्द ही गिरफ्त में होगा।
ज्ञापन सौंपने के बाद व्यवसायी संघ के अध्यक्ष बीरेंद्र प्रसाद ने कहा कि पुलिज़ सख्त कार्रवाई कर इस तरह की घटनाओं पर रोक लगाए अन्यथा आंदोलन होगा, उन्होंने कहा कि व्यवसाइयों को सुरक्षा देना पुलिस की प्राथमिकता होनी चाहिए। वहीं समाजसेवी अरविंद ने कहा कि थेन से चंद कदमों की दूरी पर अंजाम दिया गया यह एक जघन्य अपराध है, दोषी बख्शे नहीं जाएंगे, शहर में बढ़ता अपराध चिंता का सबब है, अब तक हुए आपराधिक घटनाओं के आरोपियों को पुलिस ने संवेदनशीलता के साथ व्यवसायियों को सुरक्षा देने और अपराधियों को पकड़ने का काम नहीं किया तो इलाके में अपराध के खिलाफ चरणबद्ध आंदोलन होगा।

Related posts

डीएवी सेक्टर-6 में 12वीं  कक्षा में विज्ञान टॉपर नित्या सिंह ने परचम लहराया।

Nitesh Verma

लापरवाही : झारखण्ड मे अधूरे बैंक गारंटी पर उत्पाद विभाग का करोड़ों का काम अलॉट

Nitesh Verma

धनबाद उपायुक्त ने वरीय पुलिस अधीक्षक एवं एआरओ के साथ अग्नि प्रभावित मतदान केंद्र का किया निरीक्षण

Nitesh Verma

Leave a Comment