SAIL BOKARO झारखण्ड शिक्षा

डीपीएस बोकारो में 11वीं के विद्यार्थियों का उन्मुखीकरण कार्यक्रम आयोजित, किए गए प्रेरित

अपने लक्ष्य के प्रति रखें दीवानगी, कामयाबी जरूर कदम चूमेगी : डीआईजी एसके झा

बोकारों (ख़बर आजतक) : दिल्ली पब्लिक स्कूल (डीपीएस) बोकारो में 11वीं कक्षा (सत्र 2024-25) के नामांकित विद्यार्थियों की कक्षाएं गुरुवार को प्रारंभ हुईं। पहले दिन प्रेरणा से ओत-प्रोत उन्मुखीकरण कार्यक्रम (ओरिएंटेशन प्रोग्राम) का आयोजन किया गया।

विद्यालय के कालिदास कला भवन में आयोजित इस कार्यक्रम में दो अलग-अलग सत्रों में विद्यार्थियों को पढ़ाई व जीवन में आगे बढ़ने के लिए जरूरी बातें बताई गईं। कार्यक्रम के अतिथि वक्ता कोयला क्षेत्र के पुलिस उप महानिरीक्षक (डीआईजी) सुरेन्द्र कुमार झा थे।

अपने संबोधन में विद्यार्थियों को प्रेरित करते हुए उन्होंने कहा कि जब हमारे भीतर अपने लक्ष्य के प्रति एक जुनून और दीवानापन होगा, तो निश्चय ही कामयाबी हमारे कदम चूमेगी। योजनाबद्ध तरीके से अपने ध्येय को पाने का अनवरत प्रयास करते रहें। अपने पहले ही प्रयास में यूपीएससी पास कर आईपीएस अफसर बनने वाले श्री झा ने अपने जीवन के अनुभव साझा किए। कहा कि जब वह छठी कक्षा में थे, उसी समय गंगाजल फिल्म देखकर वह काफी प्रभावित हुए थे। इस फिल्म ने उनका पूरा जीवन बदल दिया। उनके माता-पिता चाहते थे कि वह एक इंजीनियर बनें, लेकिन फिल्म देखने के बाद उनमें एक बड़ा पुलिस अधिकारी बनने, वर्दी पहनने और यूपीएससी के भवन तक पहुंचने की जो दीवानगी जगी, उसी ने आज उन्हें इस मुकाम पर पहुंचाया है। उन्होंने यह भी कहा कि वह एकलव्य के रूप में अप्रत्यक्ष रूप से डीपीएस बोकारो से प्रेरित रहे हैं। यहां की शैक्षणिक गरिमा जगजाहिर है और इस स्कूल से निकले विद्यार्थी हर क्षेत्र में अपनी सफलता का परचम लहरा रहे हैं।


उन्होंने विद्यार्थियों को सबसे पहले एक अच्छा इंसान बनने की प्रेरणा देते हुए कहा कि एक अच्छा इंसान ही अच्छा विद्यार्थी और अच्छा नागरिक बन सकता है। व्यक्तित्व विकास पर बल देते हुए उन्होंने विद्यार्थियों को आलोचनाओं को सकारात्मक रूप में लेने, नैतिक व भावनात्मक मूल्य बनाए रखने तथा अपने शिक्षकों, अभिभावकों एवं समाज में सभी तबके के लोगों का सदैव सम्मान करने की भी प्रेरणा दी। उन्होंने यह भी कहा कि बच्चे अपना दीपक स्वयं बनें। कुछ ऐसा करें कि समाज के लिए वे प्रेरणा बन सकें, क्योंकि वो ही समाज व राष्ट्र के भविष्य-निर्माता हैं। इस दौरान उन्होंने विद्यार्थियों के बीच जाकर उनके कई प्रश्नों के उत्तर देकर उनकी जिज्ञासाएं शांत कीं और उनका मार्गदर्शन किया। इसके पूर्व, श्री झा का स्वागत पौधा भेंट कर किया गया।

कामयाबी के लिए खुद पर रखें भरोसा : प्राचार्य डॉ. गंगवार

विद्यालय के प्राचार्य डॉ. ए एस गंगवार ने अतिथि वक्ता डीआईजी श्री झा का स्वागत किया तथा विद्यालय की ओर से स्मृति-चिह्न भेंट किया। विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए प्राचार्य डॉ. गंगवार ने कहा कि कक्षा 11 उच्च शिक्षा और भविष्य के करियर की दिशा में पहला कदम है। यह अपनी बुद्धिमत्ता, कौशल और क्षमता को विस्तारित करने का अवसर है। उन्होंने विद्यार्थियों को अपने लक्ष्य के प्रति केंद्रित रहने तथा अपना रास्ता स्वयं तय करने की प्रेरणा दी। यह भी कहा कि यह समय उनके लिए काफी महत्वपूर्ण है, जिसे सोशल मीडिया के चक्कर में पड़कर वे नष्ट न करें। इस दौरान प्राचार्य ने विद्यालय की विश्वस्तरीय शैक्षणिक सुविधाओं तथा उत्कृष्टता की कड़ी में 10वीं-12वीं बोर्ड, नीट, जेईई एडवांस्ड, एनआईडी, एनडीए सहित विभिन्न परीक्षाओं की उपलब्धियों पर भी प्रकाश डाला।

टॉपरों ने भी किया प्रेरित

इसके पूर्व, प्रथम सत्र में ओरिएंटेशन प्रोग्राम को इस वर्ष की सीबीएसई 12वीं बोर्ड जिला साइंस टॉपर विद्यालय की छात्रा साक्षी प्रिया, कॉमर्स संकाय की स्कूल टॉपर श्रीकृति केडिया, जेईई एडवांस्ड में कैटेगरी रैंक 516 पानेवाले छात्र स्पर्श राज एवं रिम्स में अध्ययनरत मेडिकल की छात्रा अस्मिता ने भी संबोधित किया। उन्होंने 11वीं के विद्यार्थियों को सफलता के गुर सिखाए। इस अवसर पर संबंधित शिक्षकों ने विद्यार्थियों को विद्यालय के नियम-कायदों, अनुशासन, शैक्षणिक एवं सह-शैक्षणिक गतिविधियों की विस्तार से जानकारी दी

Related posts

अंचल कार्यालयों में भ्रष्टाचार और लूट को किसी भी क़ीमत में बर्दास्त नही : भाजयुमो

Nitesh Verma

बोकारो जिला खो-खो टीम गुमला रवाना

Nitesh Verma

अपमानित करने वाले शब्द का प्रयोग करने पर मनोज तिवारी का किया गया निंदा

Nitesh Verma

Leave a Comment