कसमार गोमिया बोकारो

प्राचीन काली मंदिर बगदा में मां काली की मूर्ति व मंदिर प्राण प्रतिष्ठा अनुष्ठान संपन्न

डिजिटल डेस्क

कसमार (ख़बर आजतक) : जिला मुख्यालय से 40 किलोमीटर दूर कसमार प्रखंड के बगदा के लाला टोला स्थित मंदिर में मां काली की संगमरमर से नव निर्मित मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा आज पुरे धूमधाम से संपन्न हुआ. बता दे की आज से लगभग 425 साल पुरानी काली मंदिर आस्था का केन्द्र है यहां मां काली की मूर्ति का निर्माण संगमरमर से किया है। वहीं दूसरी मंजिल में मंदिर जीर्णोद्धार, गया। मूर्ति व मंदिर निर्माण का ओझा, गोपाल चक्रवर्ती, नेहरू ओझा तथा कृष्णचंद्र चक्रवर्ती ने मां काली की मूर्ति व मंदिर के विधिविधान से कराई गयी। मौक़े पर मंदिर के पुजारी संतोष चक्रवर्ती ने बताया की उनके वंशज स्व.जगु गनक ने स्थापित व रोहित चक्रवर्ती आदि वंशजों के प्रखंड के अलावे बोकारो, किया था।
वर्तमान में मंदिर की देखरेख संतोष कुमार चक्रवर्ती, रमेश चक्रवर्ती, शशांक चक्रवर्ती, साधन चक्रवर्ती अशोक चक्रवर्ती भास्कर चक्रवर्ती, बादल चक्रवर्ती, दीपक चक्रवर्ती राधारमण चक्रवर्ती, सुधांशु चक्रवर्ती, संदीप चक्रवर्ती, राहुल चक्रवर्ती, अभिजीत चक्रवर्ती, आकाश चक्रवर्ती, सौरव चक्रवर्ती देखरेख में संगमरमर की मूर्ति तथा धनबाद, रांची, हजारीबाग, कराया गया। इस मंदिर में मूर्ति सहित अन्य राज्यों में बिहार, जीर्णोद्धार चक्रवतीं परिवार की राज्यों से श्ररदालु पूजा अर्चना ओर से किया गया है। मंदिर के करने के लिए आते है। दूसरी मंजिल का शिखर व गुंबज मंदिर निर्माण महाराष्ट्र बालाजी ओहदे नारायण, सुरेश राठौर सहित कई शिल्पकारों निर्माण कार्य में लगे थे। बगदा प्राचीन काली मंदिर आस्था का केन्द्र बना है। यहां जो भी श्रध्दालु सच्चे मन से अपनी मन्नत लेकर आते है, उनकी मन्नत पूरी होती है।

Related posts

गोमिया : कथारा जोन 10 के लाइट एंड साउंड व्यवसाइयो की बैठक संपन्न…

Nitesh Verma

दुःखद : पूर्व ऊर्जा मंत्री लालचंद महतो का रांची में निधन

Nitesh Verma

गोमिया : ससुराल मकर सक्रांति मनाने आये युवक की सड़क हादसे में दर्दनाक मौत।

Nitesh Verma

Leave a Comment