झारखण्ड राँची राजनीति

भारी बारिश में सड़कों पर दिखा युवाओं का आक्रोश

मशाल जुलूस में हेमन्त सोरेन सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरे युवा

कार्यकर्ताओं ने कहा : इस भ्रष्ट सरकार के हटने तक जारी रहेगा हमारा आंदोलन

नितीश_मिश्र

राँची(खबर_आजतक): झारखंड की हेमंत सरकार की वादाखिलाफी और युवाओं के साथ धोखाधड़ी, नियोजन नीति नहीं बनाने के खिलाफ बुधवार को भीषण बारिश के बावजूद भारतीय जनता पार्टी, युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने महानगर अध्यक्ष रोमित नारायण सिंह के नेतृत्व में मशाल जुलूस निकाला और सरकार को चेतावनी दी। इस मशाल जुलूस में पानी में भीगते हुए बड़ी संख्या में आक्रोशित युवा शामिल हुए जिसमें सिर्फ युवा मोर्चा के कार्यकर्ता नहीं, बल्कि वह सभी युवा शामिल थे जो अपने आप को हेमंत सोरेन सरकार से ठगा हुआ महसूस कर रहे हैं।

इस मशाल जुलूस में शामिल युवा झारखंड को ठगने वाली हेमंत सरकार हाय हाय; युवाओं के साथ धोखा, अब नहीं मिलेगा मौका; हेमंत सोरेन मुर्दाबाद; युवाओं से धोखाधड़ी नहीं चलेगी; नियोजन नीति लागू करो; झूठे आश्वासन बंद करो जैसे नारे लगा रहे थे।

इस दौरान युवाओं को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि जब से यह सरकार आई है, राज्य का हर वर्ग खुद को छला हुआ महसूस कर रहा है। मुख्यमंत्री बनने से पहले हेमंत सोरेन ने कहा था कि हर साल 5 लाख युवाओं को नौकरी देंगे परंतु यह सरकार 5 हजार को भी नौकरी नहीं दे पाई है। यह न सिर्फ राज्य के साथ धोखाधड़ी है बल्कि उस संविधान का भी अपमान है, जिसकी शपथ हेमंत सोरेन ने मुख्यमंत्री बनने के लिए ली थी।

वहीं वक्ताओं ने कहा कि यह सरकार राज्य के हर मुद्दे पर फेल साबित हो रही है। युवा, महिला, बुजुर्ग, ग्रामीण, शहरी क्षेत्र के लोग खुद को ठगा हुआ सा महसूस कर रहे हैं। जिन आश्वासनों पर यह सरकार झारखंड में आई, उसे उलट इस सरकार ने हर काम किया। राज्य में माफिया गिरी और लूट को बढ़ावा मिला है। नौकरी देने में असफल हेमंत सोरेन अब युवाओं को मुर्गी और अंडा बेचने की सलाह दे रहे हैं। अगले चुनाव में युवा इन्हें मुर्गी और अंडा बेचने लायक भी नहीं छोड़ेंगे। इस सरकार को यह समझ लेना चाहिए कि वादाखिलाफी बहुत दिनों तक नहीं चलेगी। इसी राज्य का युवा धक्का देकर इस सरकार को सत्ता से बाहर करेगा। भारी बारिश के बावजूद इस मशाल जुलूस में शामिल हुए युवाओं के प्रति सभी नेताओं ने आभार प्रकट किया और कहा कि इस भ्रष्ट, वादाखिलाफी करने वाली हेमन्त सोरेन सरकार के हटने तक यह आंदोलन जारी रहेगा।

इस दौरान युवा मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष किसलय तिवारी, महानगर अध्यक्ष केके गुप्ता, उपाध्यक्ष जितेन्द्र सिंह पटेल, वरुण साहू, भूपेंद्र सिंह, प्रियंक भगत, रणजीत शाहदेव, सचिन साहू आदि शामिल हुए।

Related posts

एबीवीपी द्वारा प्राचार्य के घेराव के बाद बस सुविधा शुरू

Nitesh Verma

प्रशिक्षित अप्रेंटिस विस्थापित युवाओं को नियोजित करे सेल प्रबंधन : अमित

Nitesh Verma

श्री राणी सती मंडल का 42वाँ वार्षिकोत्सव आज, तैयारी पूरी

Nitesh Verma

Leave a Comment