गोमिया झारखण्ड बोकारो

सड़क के गड्ढों में पानी भरने से दिखाई नहीं देते, बढ़ रहे हादसे,वाहन चालकों को हो रही परेशानी।

rरिपोर्ट : प्रशांत अम्बष्ठ

गोमिया (ख़बर आजतक) : गोमिया प्रखंड अंतर्गत गोमिया, साडम के बीच स्थित बोकारो नदी पर बना पुल जो पेटरवार, ललपनिया, गोमिया का मुख्य मार्ग है .बोकारो पुल पर जगह-जगह गहरे गड्ढे हो गए हैं, इन गड्ढों के कारण वाहन चालकों को आने-जाने में काफी परेशानी हो रही है। गोमिया प्रखंड की मुख्य रोड सहित कई जगहों पर गड्ढे हो गए हैं। बारिश के कारण इन गड्ढों में गंदा पानी भरने से वाहन चालकों को परेशानी होती है। सड़क पर हुए इन गड्ढों के कारण अधिकांश स्कूलों के छात्र-छात्राओं को यहां से निकलने में परेशानी होती है। अधिकांश बच्चे पैदल या साइकिल से स्कूल जाते हैं। सड़क पर हुए गड्ढों के कारण साइकिल से जाने वाले बच्चों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। गड्ढों के कारण साइकिलें चतिग्रस्त भी हो जाते हैं. इसके अलावा बाइक और स्कूटी चालकों को भी परेशानी होती है। बारिश होने की स्थिति में सड़क पर हुए गड्ढों की गहराई का अंदाजा नहीं लग पाता है।

ऐसे में कई बार तेज रफ्तार दोपहिया वाहन चालक अचानक गहरे गड्ढे में जाने के कारण हादसे का शिकार हो जाते हैं। इससे छात्र-छात्राओं के कपड़े खराब होने से उन्हें परेशानी हाेती है।

पैदल राहगीरों के हो रहे कपड़े खराब

पैदल राहगीरों को सड़क किनारे हुए गड्ढों के कारण वाहन चालकों को भारी परेशानी होती है। गड्ढों के पास से जब पैदल राहगीर गुजरते हैं। ऐसे में यदि पीछे से दोपहिया या चारपहिया वाहन आ जाए तो इन वाहनों के तेजी से गड्ढों में से निकलने पर गंदा पानी छिटक कर पैदल राहगीरों के ऊपर गिर जाता है। इससे इन लोगों के कपड़े खराब हो जाते हैं।

इन स्थानों पर हुए गहरे गड्ढों से बढ़ी परेशानी

गोमिया प्रखंड की अधिकांश सड़कों पर गड्ढे हो गए हैं। इन गड्ढों की मरम्मत की तरफ जिम्मेदार अधिकारियों का ध्यान नहीं है। गोमिया हाई स्कूल, गोमिया रेलवे फाटक एवं गोमिया प्रखंड कार्यालय के सामने मुख्य सड़क पर बड़े बड़े गड्ढे हो गए हैं। इस स्थान पर कई साल से इस तरह गड्ढे बने हुए हैं।

Related posts

महात्मा गाँधी के विचारों को मूर्त रूप देना ही सच्ची श्रद्धांजलि: डॉ तपन शांडिल्य

Nitesh Verma

सीएमपीडीआई के 9 सदस्य हुए सेवानिवृत्त

Nitesh Verma

महिलाओं बच्चों को सांस्कृतिक धरोहरों से रूबरू करवाने हेतू सामुहिक भ्रमण अतिआवश्यक: कुमुद

Nitesh Verma

Leave a Comment