झारखण्ड राँची

सीयूजे में एसटीपीआई की नेक्स्ट जनरेशन इन्क्यूबेशन स्कीम पर जागरूकता सत्र का आयोजन

नितीश_मिश्र

राँची(खबर_आजतक): सीयूजे के इंस्टीट्यूशन इनोवेशन काउन्सिल और बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन विभाग द्वारा सोमवार को सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्क ऑफ इंडिया (एसटीपीआई) के सहयोग से संयुक्त रूप से “एसटीपीआई की नेक्स्ट जनरेशन इन्क्यूबेशन स्कीम (एनजीआईएस)” पर एक जागरूकता सत्र एवं नेक्स्टजेन स्टार्ट-अप चैलेंज कॉन्टेस्ट (CHUNAUTI – चैलेंज हंट अंडर एनजीआईएस फ़ॉर एडवांस्ड अनइनहिबिटेड टेक्नोलॉजी इंटरवेंशन) का आयोजन किया गया।

इस कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा स्थापित भारत के सॉफ्टवेयर प्रौद्योगिकी पार्क के संयुक्त निदेशक एवं प्रभारी अधिकारी डॉ आर सी मीना एवं सहायक निदेशक शुभ मिश्रा थे।

इस दौरान अर्थव्यवस्था के लिए आईटी की भूमिका,
आईटी बुनियादी ढांचे, आईटी सेवाएं, इलेक्ट्रॉनिक क्लस्टर, स्टार्ट-अप, एसटीपीआई द्वारा दी जाने वाली योजनाएं आदि विषयों पर चर्चा की गई।

वहीं डॉ. मीना ने यह भी बताया कि कैसे एसटीपीआई आगे बढ़ने के इच्छुक युवाओं और आईटी के क्षेत्र में स्टार्टअप शुरू करने के इक्छुक लोगों के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। उन्होंने स्टार्ट-अप के विचार/उत्पाद को प्रदर्शित करने के लिए विभिन्न राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मंच के साथ-साथ प्रस्तावित तकनीकी सलाह, इंटर्नशिप, सीड मनी, फंडर नेटवर्किंग आदि के बारे में विवरण भी साझा किया। इस सत्र में 250 से अधिक छात्रों ने भाग लिया।

इस कार्यक्रम का समन्वयन झारखण्ड केंद्रीय विश्वविद्यालय के डॉ. प्रज्ञान पुष्पांजलि और डॉ. नितेश भाटिया ने किया।

Related posts

विधान तब तक संपूर्ण नहीं होता जब तक वह न्याय संगत न हो : रविंद्र नाथ महतो

Nitesh Verma

ईएसएल स्टील लिमिटेड की सीएसआर टीम ने विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस पर प्रभावशाली जागरूकता सत्र का आयोजन किया

Nitesh Verma

सड़कों पर भटक रहे 70 वर्षीय बृद्ध को हेल्पिंग हैंड्स द्वारा पुरुलिया आश्रम भेजा गाया

Nitesh Verma

Leave a Comment