झारखण्ड राँची

हरमू नदी के जीर्णोद्धार और संरक्षण के लिए शुरु हुआ प्रोजेक्ट फेल

नितीश_मिश्र

राँची(खबर_आजतक): राँची स्थित हरमू नदी के जीर्णोद्धार और संरक्षण के लिए शुरू हुआ प्रोजेक्ट फेल हो गया है। ₹101 करोड़ के इस प्रोजेक्ट पर अब तक ₹93 करोड़ खर्च हो चुके हैं लेकिन अभी भी नदी में सीवरेज का पानी बहता है। झारखंड विधानसभा के मानसून सत्र के अंतिम दिन शुक्रवार को सदन में पेश सीएजी की वित्तीय वर्ष 2021 की परफार्मेंस ऑडिट रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ। इस रिपोर्ट में हरमू नदी प्रोजेक्ट के अलावा राँची सीवरेज ड्रेनेज प्रोजेक्ट (मैनहर्ट) की अनियमितताओं का भी विस्तृत उल्लेख है।

यह रिपोर्ट पेश करने के बाद प्रधान महालेखाकार (पीएजी) उदय शंकर प्रसाद ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने कहा कि हरमू नदी प्रोजेक्ट से राँची के लोगों को कोई फायदा नहीं होने वाला है। ऑडिट टीम ने मेकॉन से हरमू नदी की पानी की जाँच कराई तो इसमें गंदा पानी बहने की बात सामने आई। प्रोजेक्ट शुरु होने से पहले हरमू नदी में जितनी गंदगी थी, वही हाल अब भी है। राज्य सरकार ने अपनी कमेटी से जो जाँच कराई, उसमें भी पानी की गुणवत्ता में कोई सुधार नहीं मिला। इस लक्ष्य को पूरा करने में यह प्रोजेक्ट पूरी तरह से विफल रहा।

Related posts

जेसीआई राँची नियो का दिवाली सम्मेलन संपन्न

Nitesh Verma

विवेकानंद विद्या मंदिर में मनाया गया शिक्षक दिवस

Nitesh Verma

मिथिलेश ठाकुर के विशेष कार्य पदाधिकारी बनें चंद्रचुड़ प्रसाद सिंह

Nitesh Verma

Leave a Comment