झारखण्ड राँची राजनीति

2024 के पूर्व सरना धर्म कोड लागू हो अन्यथा 2024 के चुनाव में सरकार को करना होगा आदिवासियों के क्रोध का सामना: फूलचंद

नितीश_मिश्र

राँची(खबर_आजतक): केंद्रीय सरना समिति के केंद्रीय अध्यक्ष फूलचंद तिर्की ने सोमवार को प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए 8 नवंबर सरना धर्म कोड जनसभा कार्यक्रम का समर्थन किया है। केंद्रीय अध्यक्ष फूलचंद तिर्की ने कहा कि सरना कोड प्राकृतिक पूजक आदिवासियों का पहचान एवं अस्तित्व से जुड़ा हुआ है। एक लंबे समय से आदिवासी अपने पहचान के लिए लड़ाई लड़ रहे हैं। 2024 के चुनाव से पहले सरना कोड लागू होना चाहिए, यदि लागू नहीं हुआ तो 2024 के चुनाव में सरकार को आदिवासियों का क्रोध का सामना करना पड़ेगा।

Related posts

बोकारो में तीन दिवसीय स्टील ट्रॉफी वॉलीबॉल प्रतियोगिता शुरुआत

Nitesh Verma

चिन्मय मिशन चास द्वारा दो दिवसीय गीता गायन प्रतियोगिता का सफल आयोजन

Nitesh Verma

इलाके में अम्बेडकर जयंती की धूम, सांस्कृतिक कार्यक्रमों का हो रहा आयोजन

Nitesh Verma

Leave a Comment