झारखण्ड राँची राजनीति

आदिवासी संगठन का सरना कोड को लेकर भारत बंद असरदार

बोले फूलचंद ‐ “2024 से पहले यदि केंद्र सरकार सरना कोड लागू नहीं रहती तो आदिवासी केंद्र सरकार को उखाड़ फेकेंगे”

नितीश_मिश्र

राँची(खबर_आजतक): भारत बंद सरना कोड लागू करने को लेकर केंद्रीय सरना समिति अखिल भारतीय आदिवासी विकास परिषद एवं आदिवासी सेंगेल अभियान के द्वारा शनिवार को राँची, हजारीबाग, लोहरदगा, खूँटी सहित सात राज्यों में रेल रोड चक्का जाम किया गया। राजधानी राँची में अनगड़ा प्रखण्ड अंतर्गत गंगाघट पर रेल रोड चक्का जाम किया गया। गंगा घाट रोड एवं रेल पटरी पर लोग उतरकर सरना कोड की माँग कर रहे थे। इस दौरान गंगा घाट रेलवे स्टेशन में केंद्रीय सरना समिति के केंद्रीय अध्यक्ष फूलचंद तिर्की, उपाध्यक्ष प्रमोद एक्का, सोमरा उराँव, गंगा मुण्डा, साजन उराँव, प्रभु उराँव, मंगरु उराँव, गाजु उराँव के नेतृत्व में हजारों की संख्या में लोग सड़क एवं रेल पटरी पर उतरकर प्रदर्शन किया।

वहीं राँची के कोकर में केंद्रीय सरना समिति के महासचिव संजय तिर्की के नेतृत्व में सड़क जाम किया गया। हजारीबाग में सरना समिति हजारीबाग के अध्यक्ष महेंद्र बेक के नेतृत्व में आई लव यू चौक जाम किया गया। लोहरदगा जिला में जिला सरना समिति लोहरदगा के अध्यक्ष चैतू उराँव के नेतृत्व में लोहरदगा रेलवे स्टेशन रेल रोका गया एवं कचहरी रोड में मुख्य चौक पर सड़क जाम किया गया।

इस मौके पर केंद्रीय सरना समिति के केंद्रीय अध्यक्ष फूलचंद तिर्की ने कहा कि भारत बंद सफल रहा पूरे देश में आदिवासी सरना कोड की माँग पर लोग सड़क पर उतरकर रेल रोड चक्का जाम कर सरना कोड लागू करो का नारा बुलंद कर रहे थे। उन्होंने कहा कि 2024 के चुनाव से पहले यदि केंद्र सरकार सरना कोड लागू नहीं करती है तो आदिवासी केंद्र सरकार को उखाड़ फेंकेंगे। केंद्रीय सरना समिति के उपाध्यक्ष प्रमोद एक्का ने कहा कि सरना कोड नहीं रहने से जबरन आदिवासी को हिंदू एवं ईसाई बनाया जा रहा है। सरना कोड लागू होने से हिन्दू, मुस्लिम, सिख, इसाई, सिख, जैन, बौद्ध अपने आप डिलिस्टिंग हो जाएँगे।

इस मौके पर केंद्रीय सरना समिति के सदस्यगण, आदिवासी छात्र संघ, आदिवासी सेंगेल अभियान के सदस्य सहित अन्य उपस्थित थे।

Related posts

“प्रधानमंत्री ने किया ओसप सहित 85 हजार करोड़ की विभिन्न रेल परियोजनाओं का शिलान्यास”

Nitesh Verma

कांग्रेस झारखंड में चार सीटों पर कर सकती है प्रत्याशियों का ऐलान, किन्हें मिलेगा मौका?

Nitesh Verma

विश्‍वविद्यालय निरीक्षक संजीव राय ने आरयू के विभिन्न विभागों का किया निरीक्षण

Nitesh Verma

Leave a Comment