झारखण्ड राँची राजनीति

आरयू के तीन दिवसीय युवा महोत्सव “कल्पतरू” का हुआ शुभारंभ

नितीश_मिश्र

राँची(खबर_आजतक): आरयू के तीन दिवसीय पीजी युवा महोत्सव “कल्पतरू” का भव्य शुभारंभ बुधवार को किया गया। इस दौरान आर्यभट्ट सभागार में कुलपति आरयू प्रो.(डॉ.) अजीत कुमार सिन्हा संग सभी वरीय पदाधिकारियों ने द्वीप प्रज्ज्वलित किया। उसके बाद पीएफए विभाग के छात्र कलाकारों ने राष्ट्रगान, कुलगीत और गणेश वंदना की प्रस्तुति दी।

इस दौरान कुलपति डॉ. अजीत सिन्हा ने सभी छात्रों, शिक्षकों, प्रतिभागियों, आयोजन कमिटी के सदस्यों को इस आयोजन के लिये बधाई दी। उन्होंने युवाओं से कहा कि आप सभी देश के भविष्य हैं और हमारे राँची विश्वविद्यालय के छात्रों में अथाह प्रतिभा है हमें इसे निखारना है।

वहीं आरयू कुलपति डॉ. अजीत सिन्हा ने कहा कि जीवन में बहुत सारी चीज़ें हम पूर्व से लेकर आते हैं पर मित्रता, विजन, कला को हम स्वयं चुन और निखार सकते हैं। हम अपने इंडियन नौलेज सिस्टम को अपनायें, अपनी संस्कृति को समृद्ध करें अपने पारंपरिक परिधान तक को महत्व दें यह आवश्यक है।

डीएसडब्ल्यू डॉ सुदेश कुमार साहू ने स्वागत भाषण में सभी को कल्पतरु महोत्सव में स्वागत करते हुए कहा कि हम छात्रों पढ़ाई के साथ छात्रों के सर्वागिंन विकास के लिए प्रयत्नशील हैं।

आरयू कुलसचिव ने सभी प्रतिभागियों को शुभकामनाएँ दीं। इस अवसर पर आरयू कुलपति को पीएफए विभाग के छात्र की बनाई गयी पेंटिग भेंट की गई। पीएफए की छात्रा शिल्पा ने मोहक शिव स्तुति तथा प्रिया ने छनन छनन नाचे गिरधारी ठुमरी नृत्य प्रस्तुत किया। युवा महोत्सव का नाम कल्पतरु ही क्यों ?

वहीं इसका संचालन कर रहीं डॉ. स्मृति सिंह ने बताया कि कल्पतरु समुद्र मंथन से प्राप्त एक परोपकारी वृक्ष है और यह सारी मनोकामनाओं की पूर्ति करता है। राँची विश्व के उन गिने चुने शहरों में है जहां यह कल्पतरू वृक्ष है। कुलपति को छात्र निखिल ने एक कल्पतरू वृक्ष भी भेंट किया।

इस दौरान उद्घाटन सत्र का संचालन डिप्टी डायरेक्टर सीवीएस डॉ. स्मृति सिंह ने तथा धन्यवाद ज्ञापन कुलसचिव डॉ. विनोद नारायण ने किया।

इस अवसर पर सीडीसीसी डॉ. पी.के.झा, डीएसडबल्यू डॉ. सुदेश कुमार साहू, प्रोक्टर सह निदेशक सीवीएस डॉ. मुकुंद चंद्र मेहता, परीक्षा नियंत्रक आशीष कुमार झा, डॉ बी पी सिन्हा अन्य वरीय पदाधिकारियों सहित सभी विभागों के हेड, संकायाध्यक्ष, प्राध्यापक तथा सैकड़ों छात्र उपस्थित थे।

आरयू में इस महोत्सव के बाद चयनित छात्रों का एक अंतर विश्वविघालय इवेंट होगा जिसमें चुने गये छात्रों को इस्ट जोन के युवा महोत्सव में भेजा जाएगा। इस महोत्सव में “एक भारत श्रेष्ठ भारत” थीम पर ज्यादतर इवेंट करायें जा रहे हैं।

Related posts

BSL के सिंटर प्लांट में हिंदी कार्यशाला का आयोजन

Nitesh Verma

नियमित जांच से हृदय रोग की रोकथाम : डॉ सुमन

Nitesh Verma

एसबीयू में ‘डायरेक्ट टैक्स मैनेजमेंट : प्रैक्टिकल इंप्लीमेंटेशन इन टैली एंड एक्सल’ पर कार्यशाला का आयोजन

Nitesh Verma

Leave a Comment