झारखण्ड बोकारो

ईएसएल पर्यावरण की देखभाल के प्रति है संजीदा, 2024-25 में डेड लाख वृक्षारोपण का लक्ष्य

बोकारो (ख़बर आजतक) : ई एस एल स्टील लिमिटेड के स्वास्थ्य, सुरक्षा, पर्यावरण और स्थिरता (एच एस ई एस) विभाग के. संदीप, एच एस ई एस के प्रमुख के नेतृत्व में यू एन ई पी (संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम) द्वारा घोषित विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर वृक्षारोपण अभियान का आयोजन किया। संयंत्र में एक पखवाड़ा तक चलने वाले पर्यावरण चेतना, जागरूकता और कार्रवाई पखवाड़ा समारोह का यह कार्यक्रम समापन भी था। 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस का नेतृत्व यू एन ई पी द्वारा किया जाता है और 1973 से प्रतिवर्ष आयोजित किया जाता है। यह कार्यक्रम पर्यावरण आउटरीच के लिए सबसे बड़ा वैश्विक मंच बन गया है ।

यह भविष्य की पीढ़ियों के जीवन की गुणवत्ता में सुधार करने के लिए राष्ट्रों और लोगों को प्रेरित, सूचित और सक्षम करके पर्यावरण की देखभाल में नेतृत्व प्रदान करता है और साझेदारी को प्रोत्साहित करता है। विश्व पर्यावरण दिवस के लिए इस वर्ष का विषय भूमि बहाली, मरुस्थलीकरण और सूखे का प्रतिरोध है। इस वर्ष के विश्व पर्यावरण दिवस समारोह के साथ एक पखवाड़ा तक चलने वाला पर्यावरण चेतना, जागरूकता और कार्रवाई पखवाड़ा ई एस एल स्टील लिमिटेड में मनाया गया। एच एस ई एस विभाग द्वारा आयोजित सप्ताह भर के समारोह ने संगठन के लगभग सभी कर्मचारियों को प्रभावित किया और इसमें एक्सेल 30 क्लासेस में और सुरक्षा वाहन से जागरूकता, विभागीय क्विज़ और मजेदार सत्र, ऑनलाइन क्विज़, पोस्टर बनाने, फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी की प्रतियोगिताएं, के अलावा 1.5 लाख पौधे लगाने के महत्वाकांक्षी वृक्षारोपण अभियान शामिल रहा। ई एस एल स्टील लिमिटेड के मुख्य परिचालन अधिकारी रवीश शर्मा ने उपस्थित लोगों से कहा, “मैं इस तथ्य पर जोर देना चाहूंगा कि पर्यावरण हम सभी को प्रभावित करता है और इसलिए हम सभी को प्रकृति माँ का ध्यान रखना चाहिए। इसे किसी अन्य व्यक्ति पर नहीं छोड़ा जा सकता है। पेरिस में 2015 के संयुक्त राष्ट्र जलवायु शिखर सम्मेलन में स्वीकार किए गए “वन-पॉइंट-फाइव” घोषणा, जिसे पेरिस समझौते के रूप में जाना जाता है, जिसका मंतव्य ये है कि वर्ष 2100 तक, सभी 195 देशों, संगठनों और व्यक्तियों को पूर्व-औद्योगिक क्रांति के स्तर की तुलना में दुनिया के औसत सतह के तापमान को 1.5 डिग्री सेल्सियस से अधिक नहीं बढ़ने देने का प्रयास करना है।“
उन्होंने आगे कहा, “हमने 2024-25 में 1.5 लाख पौधे लगाने का संकल्प लिया है। यह “वन-पॉइंट-फाइव” घोषणा की दिशा में हमारा प्रयास है। हमारे लिए, यह एक महत्वाकांक्षी योजना है लेकिन हम अपनी प्रेरणा दुष्यंत कुमार की बार-बार दोहराई जाने वाली कविता ‘कैसे आकाश में सुरख नहीं हो सकता; एक पत्थर तो तबीयत से उछालो यारो’ से ले रहे हैं।
वेदांता ई एस एल स्टील लिमिटेड के मुख्य परिचालन अधिकारी रवीश शर्मा, ई एस एल स्टील लिमिटेड के मुख्य वित्तीय अधिकारी आनंद दुबे, सी क्यू ओ और प्रमुख बिजनेस एक्सीलेंस सुश्री मीनाक्षी सभरवाल, सीएचआरओ सुश्री श्यामली मिंज ने दीप प्रज्ज्वलन के बाद पर्यावरण के प्रति जागरूक रहने और ई एस एल स्टील लिमिटेड के महत्वाकांक्षी 1.5 लाख पौधे लगाने के अभियान में मदद करने की शपथ ली। इसमें ई एस एल स्टील कंपनी के के. संदीप, प्रमुख – एच एस ई एस, ई एस एल; तपेश चंद्र नस्कर, निदेशक, डी आई पी; अमृत मुखर्जी, निदेशक, सेंट्रल इंजीनियरिंग; सरोज कुमार सिंह, निदेशक, स्टील; और अमल घोष, निदेशक, परियोजनाएं ने भी भाग लिया, जो विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं को सम्मानित करने उपस्थित हुए थे।

Related posts

नई सोचनई दिशा संवाद कार्यक्रम का आयोजन

Nitesh Verma

उपायुक्त श्री संदीप सिंह ने की कल्याण विभाग की विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन एवं उसकी अद्यतन स्थिति की समीक्षा

Nitesh Verma

गिरिडीह लोकसभा चुनाव में 16 प्रत्याशीयों का होगा आमना-सामना, चुनाव चिन्ह आवंटित

Nitesh Verma

Leave a Comment