कसमार झारखण्ड बोकारो

कसमार : 24 और 25 दिसंबर को गरगा बचाओ अभियान को लेकर बैठक संपन्न

रिपोर्ट : रंजन वर्मा

कसमार (ख़बर आजतक): रविवार को पूर्वाह्न 11.00 बजे
‘स्वास्थ्य एवं पर्यावरण संरक्षण संस्थान’ के बोकारो सेक्टर 3ई स्थित प्रधान कार्यालय ‘पर्यावरण-मित्र आश्रम’ में आयोजित एक महत्त्वपूर्ण बैठक में सर्व सम्मति से निर्णय लिया गया कि 24 दिसंबर से 25 दिसंबर तक दो दिवसीय ‘गरगा बचाओ यात्रा’ इस गरगा नदी (गर्ग-गंगा) के उद्गम स्थल बोकारो जिला के कसमार स्थित कलौंदी बांध जलकुंड से लेकर पुपुनकी गांव के तेलमच्छो पूल के पास दामोदर में संगम स्थल तक आयोजित की जाएगी जिसके माध्यम से इस नदी की स्थिति का निरीक्षण करते हुए इसे बचाने के लिए आमजन, जिला प्रशासन और राज्य सरकार से प्रदूषण एवं अतिक्रमण मुक्त करने की अपील की जाएगी । दिनांक 24 दिसंबर को सुबह 10.00 बजे गरगा नदी के उद्गम स्थल कसमार के कलौंदी बांध जलकुंड के पास गरगा पूजन कार्यक्रम आयोजित कर इसका शुभारंभ किया जाएगा और इस जलकुंड से गाद तथा प्रदूषण को हटाने, इसकी खुदाई कराने एवं इस क्षेत्र को अतिक्रमण मुक्त करने का निवेदन किया जाएगा जिससे इस नदी की भूगर्भ से निकलने वाली धारा बाधित न हो । इसके बाद यहां से ‘गरगा बचाओ यात्रा’ को आरंभ होकर नदी का निरीक्षण करते हुए संध्या 4.00 बजे तक गरगा डैम तक जाएगी । दूसरे दिन दिनांक 25 दिसंबर को सुबह 10.00 बजे से यह ‘गरगा बचाओ यात्रा’ गारगा डैम से प्रारंभ होकर सिवानडीह, ऋतुडीह, बारी कोऑपरेटिव, सेक्टर 12, चास, चीराचास होते हुए इस नदी के दामोदर में मिलन स्थल तक जाएगी । दोनों दिन ही इस यात्रा के क्रम में कई स्थानों पर छोटी छोटी सभाएं आयोजित कर लोगों को जागृत किया जाएगा । ज्ञात हो कि इस नदी का संबंध श्रीकृष्ण भगवान के जन्म से है जिसे गर्ग ऋषि ने अपने तपोबल से भूगर्भ से उत्पन्न किया था और इसका नाम गर्ग-गंगा पड़ा था जो बाद में अपभ्रंश होकर गरगा हो गया । इस अवसर पर संस्थान के महासचिव शशि भूषण ओझा ‘मुकुल’ ने कहा कि प्रशासन और सरकार द्वारा गरगा नदी को प्रदूषण और अतिक्रमणमुक्त करने हेतु हर हाल में जल्द कदम उठाना ही होगा अन्यथा बड़ा आंदोलन खड़ा किया जाएगा ।
कार्यक्रम के प्रथम दिन 24 दिसंबर के सभी आयोजनों का प्रभारी शैलेंद्र कुमार तिवारी और दिनांक 25 दिसंबर के सभी आयोजनों का प्रभारी गौरी शंकर सिंह को बनाया गया तथा पूरे कार्यक्रम का संयोजक संस्थान के कार्यकारी अध्यक्ष रघुबर प्रसाद को बनाया गया । संस्थान के महासचिव शशि भूषण ओझा ‘मुकुल’ के निर्देशन और नेतृत्व में यह ‘गरगा बचाओ यात्रा’ संचालित होगी ।आज की बैठक में रघुबर प्रसाद, अखिलेश ओझा, शशि भूषण ओझा ‘मुकुल’, ललित प्रसाद, वीरेंद्र चौबे, गौरी शंकर सिंह, बीरेंद्र मिश्र, नीरज कुमार, शैलेंद्र तिवारी, योगेंद्र सिंह, कुंदन उपाध्याय, ललन कुमार, प्रभुनाथ चौधरी, शैलेंद्र झा, अनिल उपाध्याय, दीपक सिंह, मंटू सिंह, अभय कुमार गोलू, मनीष पांडेय, सुनील झा, मनोज पांडेय आदि पर्यावरण रक्षक उपस्थित रहे ।

Related posts

साडम संतोषी मन्दिर प्रांगण में आयोजित सात दिवसीय श्री गणेशा पूजा महोत्सव के चौथे दिन उमड़ी श्रद्धांलुओं की भीड़

Nitesh Verma

आश्रम आवासीय विद्यालय से नौवी का छात्र 3 दिन से लापता,परिजन और स्कूल प्रबंधन परेशान

Nitesh Verma

टेंडर हर्ट सीनियर सेकेंडरी स्कूल में गार्गी मंजू सम्मान समारोह का आयोजन, बोले राज्यपाल ‐ “शिक्षक बच्चों के भविष्य के निर्माता और मार्गदर्शक”

Nitesh Verma

Leave a Comment