झारखण्ड राँची राजनीति

काँग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुईं सांसद गीता कोड़ा, बाबूलाल मरांडी ने दिलाई सदस्यता

पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा के साथ पहुँची भाजपा प्रदेश कार्यालय

काँग्रेस ने मधु कोड़ा सरकार में स्वयं मधु खाया और मधु कोड़ा को कोड़ा खाने को छोड़ दिया: बाबूलाल मरांडी

काँग्रेस पार्टी को जनता की सेवा से कुछ भी लेना देना नहीं: गीता कोड़ा

नितीश_मिश्र

राँची(खबर_आजतक): भाजपा प्रदेश कार्यालय में सोमवार को बड़ा मिलन समारोह आयोजित हुआ। सिंहभूम की सांसद और पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा की पत्नी गीता कोड़ा ने काँग्रेस पार्टी को छोड़कर प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी के समक्ष प्रदेश भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। इस दौरान प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी, नेता प्रतिपक्ष अमर कुमार बाउरी सहित ज्वाइनिंग कमिटी के सदस्य विधायक ढुल्लू महतो ने पट्टा पहनाकर एवं पुष्पगुच्छ देकर गीता कोड़ा का मंच पर स्वागत किया।

इस कार्यक्रम का संचालन प्रदेश मीडिया प्रभारी शिवपूजन पाठक ने और धन्यवाद ज्ञापन ढुल्लू महतो ने किया। इस मौके पर वरिष्ठ भाजपा नेता संदीप वर्मा एवं पश्चिम सिंहभूम जिलाध्यक्ष संजू पाण्डेय भी उपस्थित थे।

इस मिलन समारोह को संबोधित करते हुए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने कहा कि काँग्रेस पार्टी केवल सत्ता की भूखी पार्टी है। मधु कोड़ा के नेतृत्व में सरकार बनाकर काँग्रेस ने सारा मधु चटकर जाने के बाद गरीब आदिवासी को कोड़ा खाने के लिए छोड़ दिया। उन्होंने कहा कि काँग्रेस पार्टी को आदिवासी हित की चिंता नहीं। केवल राजनीतिक लाभ केलिए वह आदिवासी हितैषी होने का ढोंग करती है।

उन्होंने कहा कि पहले शिबू सोरेन, लालू प्रसाद यादव, अहमद पटेल ने मिलकर आदिवासियों की जल जंगल जमीन को लूटा फिर मधु कोड़ा को फँसाकर छोड़ दिया।
उन्होने कहा कि आज भी मधु कोड़ा की गिरफ्तारी के दौरान झारखण्ड भवन में मिले गोपनीय कागजात तथा बरामद गाड़ी में काँग्रेस और राजद के नेताओं के लूट में संलिप्तता के प्रमाण हैं जिसे जनता के बीच उजागर होना चाहिए। उन्होंने कहा कि काँग्रेस पार्टी आदिवासी समाज ने भी भेदभाव करती है। आज राज्य का सबसे बड़ा जमींदार शिबू सोरेन परिवार है जिसके पास रातू, पद्मा, महाराज से भी ज्यादा जमीन है और मधु कोड़ा एक गरीब हो आदिवासी परिवार से आते हैं। इसीलिए काँग्रेस पार्टी आज हेमन्त सोरेन को बचाने के लिए करोड़ों रुपए खर्च करती है, हेमन्त सोरेन को महंगे वकील के माध्यम से बचाने की हर संभव कोशिश करती है जबकि मधु कोड़ा को अकेला भुगतने के लिए छोड़ दिया।

उन्होंने कहा कि गीता कोड़ा के पार्टी में आने भाजपा का जनाधार न सिर्फ कोल्हान में बल्कि पूरे झारखण्ड में भाजपा और एन डी ए को ताकत मिलेगी।

वहीं नेता प्रतिपक्ष अमर कुमार बाउरी ने गीता कोड़ा का स्वागत करते हुए कहा कि भाजपा के बैनर तले झारखंड को आगे बढ़ाने का संकल्प का स्वागत और अभिनंदन है। उन्होने कहा कि गीता कोड़ा ने राज्य की जनता को भ्रष्टाचार और तुष्टिकरण से मुक्ति दिलाने के लिए झारखण्ड की सत्ताधारी पार्टी को छोड़कर विपक्ष का दामन थामा है। उन्होंने कहा भाजपा मोदी की गारंटी को धरातल पर उतारने केलिए संकल्पित है। झारखण्ड की 14 लोकसभा सीट पर एनडीए की जीत दर्ज होगी। देश में 400पार के साथ फिर एक बार मोदी सरकार का संकल्प साकार होगा।

सांसद गीता कोड़ा ने भाजपा के केंद्रीय एवं प्रदेश नेतृत्व का आभार प्रकट करते हुए कहा कि देश की जनता को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर दिन प्रतिदिन विश्वास और भरोसा बढ़ता जा रहा है। दूसरी ओर काँग्रेस झामुमो, राजद जैसी परिवारवादी पार्टियाँ भ्रष्टाचार, परिवारवाद और तुष्टिकरण में आकंठ डूबी है। इंडी एलायंस के पास न नीति है न नियत। ये दल केवल अपनी तिजोरी भरने के लिए सत्ता में रहना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि देश में नरेन्द्र मोदी के हाथ को मजबूत करने के लिए राज्य की 14लोकसभा पर जीत दिलाने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी।

उन्होंने कहा कि सबका साथ, सबका विकास यह भाजपा ही कर सकती है। उन्होने कहा कि भाजपा जनजाति समाज के सर्वांगीण विकास के कार्य कर रही है।

Related posts

राँची:आलोक दूबे, डॉ राजेश गुप्ता सहित पांच ने तोड़ा पार्टी का संविधान, मिला कारण बताओ नोटिस…

Nitesh Verma

जद(यू) को गाँव स्तर तक पहुँचाना है: खीरू

Nitesh Verma

इक्फ़ाई विश्वविद्यालय में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का आयोजन

Nitesh Verma

Leave a Comment