राँची

कार्यकारिणी समिति की बैठक संपन्न

100 दिन का कार्यकाल पूरा होने पर सदस्यों ने चैंबर अध्यक्ष के प्रयासों को सराहा : मंत्री

नितीश_मिश्र

राँची(खबर_आजतक): झारखण्ड चैंबर ऑफ कॉमर्स के कार्यकारिणी समिति की पाँचवीं बैठक होटल ग्रीन होराइजन में संपन्न हुई। अध्यक्ष किशोर मंत्री के नेतृत्व में गठित वर्तमान कार्यसमिति के 100 दिन पूरे होने पर सदस्यों ने वर्तमान कार्यकारिणी समिति के कार्यों की प्रशंसा की। वर्तमान सत्र के दौरान अब तक कुल 128 नये व्यापारियों को चैंबर का सदस्य बनाये जाने की दिशा में किए गए प्रयासों के लिए बैठक में मेम्बरशीप एक्सटेंशन उप समिति के चेयरमेन विवेक अग्रवाल को सम्मानित किया गया वहीं पत्रिका के प्रथम अंक को मिल रही सराहना के लिए भी उप समिति चेयरमेन सुनिल सरावगी को सम्मानित किया गया।

इस दौरान चैंबर अध्यक्ष किशोर मंत्री ने कहा कि वर्तमान सत्र में 1000 नये लोगों को चैंबर की सदस्यता दिलाना और सभी जिलों में जिला चैंबर ऑफ कॉमर्स की स्थापना हमारी प्राथमिकताओं में है और इसे पूरा करने के लिए हर स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं।

इस बैठक के दौरान चार नये संगठन बैद्यनाथधाम चैंबर, श्रीबंसीधर चैंबर (नगर उंटारी, गढ़वा), धनबाद जिला चैंबर और झारखण्ड कांट्रैक्टर एसोसिएशन के प्राप्त सदस्यता आवेदन को सर्वसम्मति से स्वीकृति दी गई।

इस बैठक में उपस्थित पूर्व राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार ने वर्तमान सत्र में ट्राइबल बिजनेस कमिटी का गठन किए जाने के प्रयास की प्रशंसा की और इस प्रयास को आगे बढ़ाने का सुझाव दिया।

बिना संवाद किए कृषि शुल्क विधेयक को विधानसभा में पारित कराये जाने पर बाजार समिति पंडरा के व्यापारियों ने नाराजगी जताई और इस मामले में झारखण्ड चैंबर से हस्तक्षेप का आग्रह किया।

इस दौरान महासचिव डॉ अभिषेक रामाधीन ने कहा कि महागामा विधायिका दीपिका पाण्डेय सिंह की उपस्थिति में संसदीय कार्य मंत्री आलमगीर आलम ने मई माह में हमें आश्वस्त किया था कि इस विधेयक को स्थाई रूप से समाप्त कर दिया जाएगा, ऐसे में कृषि मंत्री द्वारा इस विधेयक को पुनः विधानसभा में लाकर पारित करा लेना आपत्तिजनक है। इस मामले में कांग्रेस के शीर्ष राष्ट्रीय नेतृत्व को पत्राचार किया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि इस विधेयक के पारित होने के बाद सभी जिलों के व्यापारियों, किसानों और प्रसंस्करण उद्योग से जुड़े उद्यमियों में उहापोह की स्थिति बनी हुई है। शीघ्र ही सभी जिला चैंबर से समन्वय बनाकर आगे की रणनीतियों पर विचार किया जाएगा।

इस बैठक के दौरान सदस्यों ने परिवहन विभाग से जुड़ी कई समस्याओं से भी अवगत कराया। व्यवसायियों के आग्रह पर चैंबर अध्यक्ष ने जल्द ही परिवहन सचिव से मिलकर सभी समस्याओं पर वार्ता के लिए आश्वस्त किया। सम्मेद शिखर मधुबन को पर्यटन स्थल का स्वरूप दिये जाने पर कोयलांचल प्रमंडल के क्षेत्रीय उपाध्यक्ष प्रदीप अग्रवाल ने नाराजगी जताते हुए इसे तीर्थ स्थल के रुप में ही रखे जाने को उपयुक्त बताया।

इस बैठक में चैंबर अध्यक्ष किशोर मंत्री, उपाध्यक्ष आदित्य मल्होत्रा, अमित शर्मा, महासचिव डॉ अभिषेक रामाधीन, सह सचिव रोहित पोद्दार, शैलेश अग्रवाल, कोषाध्यक्ष सुनिल केडिया, क्षेत्रीय उपाध्यक्ष राजेश महतो, अमित साहू, प्रदीप अग्रवाल, प्रीतम गाडिया, कार्यकारिणी सदस्य अनिश बुधिया, मनीष सर्राफ, नवीन अग्रवाल, नवजोत अलंग, प्रवीण लोहिया, राहुल मारु, राम बांगड, रोहित अग्रवाल, सोनी मेहता, पूर्व अध्यक्ष महेश पोद्दार, ललित केडिया, अरुण बुधिया, मनोज नरेडी, सज्जन सर्राफ, पवन शर्मा, जेसीपीडीए अध्यक्ष संजय अखौरी, सदस्य पूनम आनंद, अंजय सरावगी, तुलसी पटेल, रोनक पोद्दार, नरेश पुंग, विवेक अग्रवाल, सुनिल सरावगी, अमित किशोर, विनय छापड़िया, सीए पंकज मक्कड, मुकेश पाण्डेय, आस्था किरण, विजय शंकर, ओपी लाल, श्रवण राजगढ़िया, संदीप नागपाल, आदित्य खंडेलवाल, निरंजन शर्मा, राजीव चौधरी, किशन अग्रवाल, शशांक भारद्वाज, सीए प्रभात अग्रवाल, अनिस सिंह, जसविंदर सिंह, संतोष अग्रवाल, संजय सिंह, सुनिल माथुर, विकास झाझरिया, रामगोपाल केडिया, राजकिशोर यादव, रितेश कुमार, रोहित कुमार, मदन प्रसाद, रामलखन साहू, सुनिल गुप्ता आदि उपस्थित थे।

Related posts

विधायक अंबा प्रसाद ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से की मुलाकात, जातीय जनगणना, विस्थापन आयोग का गठन समेत विभिन्न मामलों को लेकर निर्णय लेने का किया अनुरोध

Nitesh Verma

चेंबर चुनाव: टीम शैलेन्द्र ने शुरु किया पदयात्रा, चुनाव को लेकर कल टाटीसिलवे में बैठक आयोजित

Nitesh Verma

म्युनिसिपल बांड की घोषणा से निगम के प्रति बढ़ेगा लोगों का भरोसा : रोहित अग्रवाल

Nitesh Verma

Leave a Comment