Uncategorized

कृषि मंत्री संग झारखण्ड चैंबर बैठक आयोजित, फूड प्रोसेसिंग यूनिट्स को बढ़ावा के मुद्दे पर हुई चर्चा

नितीश_मिश्र

राँची(खबर_आजतक): झारखंड चैंबर ऑफ कॉमर्स की एक बैठक कृषि मंत्री बादल पत्रलेख के साथ हुई। प्रदेश में फूड प्रोसेसिंग यूनिट्स को बढ़ावा देने के मुद्दे पर वृहद् चर्चा हुई। इस दौरान मिल संचालकों की ओर से प्राप्त कठिनाईयों से अवगत कराते हुए कहा गया कि प्रत्येक वर्ष धान के समर्थन मूल्य में कुछ न कुछ बढोत्तरी होती है जबकि झारखण्ड में वर्ष 2011 में राइस मीलों के लिए ₹20 प्रति क्विंटल मिलिंग दर था, आज भी मिलिंग दर ₹20 प्रति क्विंटल ही है। जबकि पडोसी राज्यों में इसकी दर में बढोत्तरी हुई है। यह भी कहा गया कि प्रोत्साहन राशि हेतू इंसेटिव सुपुर्दगी की समय सीमा जो प्रत्येक वर्ष 31 जुलाई तक निर्धारित है जबकि अवधि बढाकर 31 अक्टूबर तक करने का भी आग्रह किया गया। यह कहा गया कि इंसेटिव प्रदान करने की समय सीमा में विस्तार से राइस मिलर्स प्रोत्साहित होंगे।

राज्य में बनाई जा रही नई फूड प्रोसेसिंग पॉलिसी पर भी बैठक के दौरान विधिवत चर्चा हुई। चैंबर पदाधिकारियों ने पॉलिसी की सराहना करते हुए पॉलिसी के कुछ बिंदुओं पर सकारात्मक बदलाव के लिए भी सुझाया जिस पर कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने सुधार के लिए आश्वस्त किया। इस प्रतिनिधिमंडल में चैंबर अध्यक्ष किशोर मंत्री, उपाध्यक्ष अमित शर्मा, सह सचिव रोहित पोद्दार और शैलेश अग्रवाल शामिल थे।

श्रीराम टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज के गठन की आठवीं वर्षगाँठ पर हुए कई संस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन

श्रीराम टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज के गठन की आठवीं वर्षगांठ पर महाविद्यालय सभागार में स्थापना दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें झारखण्ड चैम्बर के अध्यक्ष किशोर मंत्री बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए। इस कार्यक्रम के आरंभ में प्राचार्य द्वारा स्वागत भाषण दिया गया। इस सांस्कृतिक कार्यक्रम के अंतर्गत झारखंड लोक नृत्य असमिया नृत्य एवं संथाली नृत्य का आयोजन किया गया। नाट्य मंचन के तौर पर एक लघु नाटिका जिसमें किसान के जीवन के परिदृश्य को दिखलाया गया। एक हास्य नाटक का भी मंचन किया गया तथा इंग्लिश स्किट के रूप मे सक्सेस मंत्रा शीर्षक नाट्य की प्रस्तुति की गई। पूर्ववर्ती छात्रों में विश्वविद्यालय स्तर पर मेधा क्रम पाने वालों को ट्रॉफी एवं मेरिट सर्टिफिकेट से सम्मानित किया गया।

इस दौरान मुख्य अतिथि किशोर मंत्री ने अपने संबोधन मे महाविद्यालय मे हो रहे विकासात्मक कार्यो की सराहना के साथ साथ शिक्षा के क्षेत्र मे चेम्बर के रुझानों से सबों को अवगत कराए। अंत में महाविद्यालय के सचिव विकास सिन्हा द्वारा महाविद्यालय की भावी योजना तथा पूर्व में किए गए विकासात्मक कार्यों का एक रचनात्मक लेखा जोखा प्रस्तुत किया गया।

इस मौके पर महाविद्यालय की अध्यक्षा मंजू सिन्हा, निदेशक राजीव रंजन सिन्हा प्राचार्य, तथा चैम्बर के उपाध्यक्ष आदित्य मल्होत्रा, अमित शर्मा, सह सचिव रोहित पोद्दार, शैलेश अग्रवाल कार्यकारणी सदस्य अनिल अग्रवाल व यंग इंडिया के को – चेयर निखिल अग्रवाल तथा संत जगत ज्ञान के सचिव पंकज जी एवं आदि उपस्थित थे।

Related posts

विभानसभा क्षेत्र में बी एल ओ घर – घर जाकर बेहतर कार्य कर रही है

Nitesh Verma

पासवा का तीन दिवसीय अधिवेशन 2 जून से पुरी में, डॉ रामेश्वर उराँव करेंगे उद्धघाटन

Nitesh Verma

सरहूल महोत्सव को धूमधाम से मनाने से हेतू पाँच जोन में बँटा राँची, प्रभारी नियुक्त

Nitesh Verma

Leave a Comment