राँची

झारखंड में दुष्कर्म और मतांतरण का खेल तेजी से बढ़ रहा : डॉ आशा लकड़ा

नितीश_मिश्र

राँची(खबर_आजतक): भाजपा की राष्ट्रीय मंत्री सह राँची की महापौर डॉ. आशा लकड़ा ने शुक्रवार को कहा कि झारखंड में दुष्कर्म और मतांतरण का खेल तेजी से बढ़ रहा है। फिर भी हेमंत सोरेन की सरकार राज्य में सुशासन का दावा कर रही है। उन्होंने कहा कि बुधवार को धनबाद के गोविंदपुर थाना क्षेत्र में 18 वर्षीय युवती को उसके घर से उठाकर जंगल में चार युवकों ने सामूहिक दुष्कर्म किया। फिर भी पुलिस अब तक आरोपितों को गिरफ्तार नहीं कर पाई है। वहीं दूसरी ओर, कोडरमा के कोठियार पंचायत के गरडीह टोला में पिछले दिनों लालच देकर हिंदुओं का मतांतरण कराया गया। गिरडीह टोला के 25 हिंदू परिवारों ने ईसाई धर्म स्वीकार कर लिया। पटना से आए ईसाई प्रचारकों ने इस कार्य को अंजाम दिया। फिर भी स्थानीय प्रशासन को इसकी भनक तक नहीं लगी। संबंधित परिवार के लोग सामाजिक व आर्थिक रूप से पिछड़े हैं।

राज्य सरकार की कार्यशैली पर टिप्पणी करते हुए उन्होंने कहा कि इन दिनों मुख्यमंत्री ख़ातियानी जोहर यात्रा निकल रहे हैं। विभिन्न जिलों में चलाई जा रही योजनाओं की समीक्षा की जा रही है। सचिव स्तर के अधिकारियों को फील्ड विजिट करने का निर्देश दिया गया है। पुलिस डिपार्टमेंट के आलाधिकारी जिलों और प्रमंडल में पहुँचकर लंबित आपराधिक मामलों की समीक्षा कर रहे है। इससे यह स्पष्ट हो चुका है कि हेमन्त सोरेन की सरकार में पिछले तीन वर्षों के कार्यकाल में इस राज्य की जनता के लिए क्या कार्य किया। उन्होंने कहा कि फिलहाल मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ख़तियानी जोहार यात्रा के माध्यम से स्वार्थ की राजनीति कर रहे हैं।

यदि उन्हें इस राज्य की जनता की तनिक भी चिंता होती तो इन घटनाओं को संज्ञान में लेकर त्वरित कार्रवाई करते, परन्तु उन्होंने इन घटनाओं पर चुप्पी साधकर यह साबित कर दिया कि राज्य में कानून व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है। उन्होंने मुख्यमंत्री से माँग करते हुए कहा कि इन घटनाओं पर त्वरित कार्रवाई कराएँ, अन्यथा भाजपा युवतियों के साथ हो रहे दुष्कर्म व हिंदुओं के मतांतरण के खिलाफ सड़क पर उतरकर आंदोलन करने को बाध्य होगी।

Related posts

विद्यार्थी परिषद ही एकमात्र ऐसा छात्र संगठन जो छात्रों में करता है सर्वगुणों का संचार : पद्मश्री अशोक भगत

Nitesh Verma

24 जुलाई को अंबा प्रसाद बरही के मनोकामनेश्वर मंदिर में करेगी रुद्राभिषेक

Nitesh Verma

धरती आबा एसी सुपरफास्ट में थ्री एसी कोच की जगह केवल थ्री एसी इकोनॉमी कोच लगाने के निर्णय पर पुर्नविचार जरुरी: चैंबर

Nitesh Verma

Leave a Comment