झारखण्ड राँची

झारखंड शराब व्यापारी संघ ने राज्य सरकार से की माँग, कहा ‐ राज्य में वित्तीय वर्ष में राजस्व की काफी नुकसान को देखकर उत्पाद विभाग को 100% सुरक्षित राजस्व देने हेतू झारखंड शराब व्यापारी संघ तैयार

नितीश_मिश्र

राँची(खबर_आजतक): राज्य सरकार से झारखंड शराब व्यापारी संघ ने माँग कि है कि राज्य में पिछले वित्तीय वर्ष में राजस्व की काफी नुकसान को देखते हुए उत्पाद विभाग को 100% सुरक्षित राजस्व देने के लिए झारखंड के शराब व्यापारी तैयार है। पिछले 2 वर्ष कोविड महामारी के समय राज्य के व्यापारी घर से नुकसान देकर सरकार से बिना कोई राहत दिए राज्य के खजाने में राजस्व जमा किया है कि आगामी वित्तीय वर्ष में घटा को मेकअप कर लेंगें पर शराब व्यापारियों के साथ ऐसा नहीं हुआ जबकि 2022/2023 में सब हालत अच्छा रहते हुए भी ₹2310 करोड़ का लक्ष्य नहीं प्राप्त कर सका है। सरकार एजेंसी को लाभ पहुँचाने के लिए लक्ष्य को ही ₹2054 करोड़ कर दिया गया जबकि वो भी आँकड़ा पूरा नहीं कर सका सही तो तब माना जाएगा जबकि केवल शराब बेचकर कितना राजस्व प्राप्त हुआ है कई तरह के स्रोत से पैसा को राजस्व से जोड़ कर दिखाया गया है जबकि केवल शराब कि बिक्री से आना चाहिए था पर ऐसा नहीं हुआ है। अभी भी राज्य सरकार से संघ कई बार गुहार लगाई है कि शराब बेचने का काम राज्य के व्यापारी का है, सरकार का नहीं है। राजा राज्य चला सकता है, व्यापार नहीं चला सकता है चलाकर देख लिया गया है उसके बाबजूद अभी तक कोई निर्णय नहीं लिया जाना राज्य सरकार अपनी जिद्द को छोड़ देना चाहिए।

झारखंड शराब व्यापारी संघ सुझाव लिखित रुप में पत्र उत्पाद मंत्री स्व जगन्नाथ महतो को 23/2/2023 को दिया था। उन्होंने संघ को आश्वासन दिया था कि आपलोग निश्चिन्त रहिए वर्ष 23/24 के लिए लॉटरी सिस्टम से शराब दुकानों का आवंटन के लिए मुख्यमंत्री से बात करेंगे। झारखंड राज्य के व्यापारी के हित में निर्णय होगा। छत्तीसगढ वालो को बैंक गारंटी ₹48 करोड़ था। उसको काटने के बाद भी ₹56 करोड़ के लिए सर्टिफिकेट केस करने का आदेश उत्पाद विभाग को दिया गया था और व्यापारी संघ से मंत्री ने कहा था कि आपलोग निश्चिंत रहें रिन्यूअल नहीं करेगें और मुख्यमंत्री से मिलकर जल्द निर्णय लेंगे, अब राज्य के शराब व्यापारी स्व जगन्नाथ महतो के निधन हो जानें के बाद से निराश हो गया है। शराब व्यापारी की बात को अब कौन सुनेगा एक बार राज्य के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से आग्रह करते है कि स्व जगन्नाथ महतो की अंतिम लेटर 3 मार्च 2023 को विभाग को निर्देश दिया गया था। उसको देखते हुए राजस्व और/ शराब व्यापारी के हित में लॉटरी सिस्टम के माध्यम से शराब दुकानों का आवंटन करने का निर्णय लेकर स्व जगन्नाथ महतो की अंतिम इच्छा को पुरा करने कि आग्रह करते है।

Related posts

डीपीएस बोकारो में 11वीं के विद्यार्थियों का उन्मुखीकरण कार्यक्रम आयोजित, किए गए प्रेरित

Nitesh Verma

भाजपा-कांग्रेस सहित अन्य विभिन्न दलों के कार्यकर्ताओ ने थामा जाप का दामन

Nitesh Verma

रथ यात्रा का धार्मिक महत्व के साथ साथ सामाजिक व सांस्कृतिक महत्व भी : डॉ रामेश्वर उराँव

Nitesh Verma

Leave a Comment