बोकारो

डीपीएस बोकारो के आदित्य ने नेशनल जूनियर साइंस एग्जाम में पूरे राज्य से अकेले पाई कामयाबी

डिजिटल डेस्क

बोकारो (ख़बर आजतक) : दिल्ली पब्लिक स्कूल (डीपीएस) बोकारो के एक और मेधावी छात्र ने राज्य में अपनी प्रतिभा की चमक बिखेरते हुए इस विद्यालय, बोकारो और पूरे झारखंड का नाम गौरवान्वित किया है। नौवीं कक्षा के छात्र आदित्य मिश्रा ने इंडियन एसोसिएशन ऑफ फिजिक्स टीचर्स (आईएपीटी) की ओर से आयोजित नेशनल स्टैंडर्ड एग्जामिनेशन इन जूनियर साइंस (एनएसईजेएस)- 2022 में पूरे राज्य से अकेले सफलता पाई है। जबकि, देशभर से कुल 168 परीक्षार्थियों ने परीक्षा के दूसरे चरण के लिए क्वालीफाई किया। यह परीक्षा 27 नवंबर 2022 को ऑफलाइन मोड में ली गई थी। इसमें सफल होने के बाद आदित्य अब आगामी 28 जनवरी को होने वाले आईजेएसओ (इंटरनेशनल जूनियर साइंस ओलंपियाड) की परीक्षा में शामिल होगा।
अपने विद्यालय के छात्र की इस शानदार सफलता पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए डीपीएस बोकारो के प्राचार्य डॉ. ए. एस. गंगवार ने दूसरे चरण की परीक्षा के लिए उसे अपनी शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि आदित्य शुरू से ही मेधावी छात्र रहा है। विभिन्न ओलंपियाडों में उसने शानदार प्रदर्शन करते हुए बेस्ट ओलंपियाड विनर का पुरस्कार प्राप्त किया है। जबकि, साइंस ओलंपियाड फाउंडेशन द्वारा उसे शैक्षणिक उत्कृष्टता छात्रवृत्ति (एकेडमिक एक्सीलेंस स्कॉलरशिप) पाने का गौरव भी मिल चुका है। गत वर्ष मैथ्स ओलंपियाड में उसने स्टेट रैंक- 2 और साइबर ओलंपियाड में इंटरनेशनल रैंक- 2 हासिल किया था। डॉ. गंगवार ने कहा कि डीपीएस बोकारो शुरू से ही छात्र-छात्राओं की प्रतिभा को समुचित मंच प्रदान करने के साथ-साथ उनके समग्र विकास को लेकर कटिबद्ध रहा है। यही वजह है कि यहां के विद्यार्थी बोकारो की गरिमा राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बढ़ाते रहे हैं।
उल्लेखनीय है कि एनएसईजेएस इंटरनेशनल जूनियर साइंस ओलंपियाड में शामिल (आईजेएसओ) होने का प्रथम चरण है। इस परीक्षा में शामिल होने के लिए अभ्यर्थी की उम्र परीक्षा वर्ष के 31 दिसंबर तक अधिकतम 16 वर्ष होना अनिवार्य है।

Related posts

कसमार में 1992 बैच के पूर्ववर्ती छात्रों का हुआ मिलन समारोह

Nitesh Verma

सेल कर्मियों को बोनस के नाम पर धोखा मिला : बि के चौधरी

Nitesh Verma

बीएसएल में  सड़क सुरक्षा जागरूकता माह अभियान के समापन समारोह का आयोजन

Nitesh Verma

Leave a Comment