झारखण्ड पलामू

पर्यावरणविद कौशल ने श्राद्धकर्म में शामिल होकर मृतक के नाम किया पौधरोपण

मृतक की आत्मा की शांति के लिए सेजिया दान के साथ पौधा दान भी जरूरी:कौशल

रिपोर्ट : अरविंद अग्रवाल

पलामू (खबर आजतक):पलामू शहर के बाईपास रोड गायत्री नगर एकता पथ में राजद नेता रामनाथ चंद्रवंशी के रिश्तेदार सेवानिवृत्त प्रधानाध्यापक ललिता कुमारी के श्राद्धकर्म में शामिल होकर विश्वव्यापी पर्यावरण संरक्षण अभियान के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह पर्यावरण धर्मगुरु व वन राखी मूवमेंट के प्रणेता पर्यावरणविद कौशल किशोर जायसवाल ने पर्यावरण धर्म के तहत मृतक के नाम उनकी आत्मा की शांति के लिए पर्यावरण धर्म के प्रार्थना के साथ थाईलैंड प्रजाति के बारहमासी आम का पौधरोपण कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की । उन्होंने कहा जब घर में माता-पिता या कोइ भी बड़े बुजुर्गों का सर से साया हट जाए तो पर्यावरण धर्म के तहत मृतक के नाम लगाए गए पौधे न सिर्फ जीवन में सम्बलता प्रदान करता है बल्कि उनकी यादगार को भी मजबूती प्रदान करता है।

पर्यावरण धर्मगुरु कौशल ने कहा कि हमारी हिन्दू संस्कृति में पौधों को देव तुल्य मानकर उसे पूजा करने का विधान है। क्योंकि एक वृक्ष से समस्त धरती और ब्रह्मांड पर रहने वाले कई जीवो को अनेकों लाभ मिलता है। जिसका उपभोग लोग सदियों से करते आ रहे हैं।इसका प्रमाण हमारे धर्म ग्रंथों में भी उल्लेखित है।

श्राद्ध कर्म में मृतक ललिता कुमारी की बहन श्रीमती मंजू देवी पति रामनाथ चंद्रवंशी , पूर्व सांसद घूरन राम,के डी सिंह ,हृदयानंद मिश्रा, जुगल किशोर चंद्रवंशी, 20 सूत्री उपाध्यक्ष विमला कुमारी , पत्रकार संजय पांडेय ,धनंजय पासवान, उमाशंकर सिंह,महावीर सिंह चंद्रवंशी, सुरेश जैन,साहिल साहनी, श्रवण प्रसाद गुप्ता, रामदेव प्रसाद यादव, उमेश प्रसाद गुप्ता, संजय प्रसाद , विनोद सोनी , धीरेंद्र कुमार सिंह, रोशन कुमार, धनंजय सिंह, प्रदीप कुमार, सुलेमान अंसारी,सत्यनारायण यादव, जियाउद्दीन अंसारी, अजय यादव, सुदर्शन राम समेत शहर के कई प्रमुख लोग शामिल होकर श्रद्धांजलि अर्पित की।

Related posts

उत्पाद समिति के चेयरमैन बनें सुबोध जयसवाल

Nitesh Verma

रामगढ़ के उद्योगों की समस्या पर किशोर मंत्री के नेतृत्व में हफीजुल हसन से मिलें रामगढ़ चैंबर के पदाधिकारी, मामले में हस्तक्षेप का किया आग्रह

Nitesh Verma

स्वदेशी जागरण मंच ने स्वदेशी के हुतात्मा बाबू गेनू के बलिदान दिवस को स्वदेशी दिवस के रूप में मनाया

Nitesh Verma

Leave a Comment