झारखण्ड दुर्घटना पलामू

पलामू में जमीनी विवाद में दो गुटों में मारपीट,एक दर्जन से अधिक गम्भीर रूप से घायल

रिपोर्ट : अरविन्द अग्रवाल

पलामू (खबर आजतक): जिले के छतरपुर में जमीन विवाद को लेकर दो गुटों में जमकर मारपीट हुई है. जिसमें एक दर्जन से अधिक गंभीर रूप से घायल है। घटना जिले के छत्तरपुर थाना क्षेत्र स्थित 15 किलोमीटर दूर बाघामारा गांव की है. जहां जमीनी विवाद को लेकर दो गुटों में हुई मारपीट में एक दर्जन से अधिक लोग घायल हो गये. जख्मी हालात में सभी लोगों ने इलाज के लिए अनुमंडलीय अस्पताल छतरपुर पहुंचे. जहां इलाज के बाद गंभीर हालत खराब होने के स्थिति में चिकित्सक ने 4 लोगों को मेदिनीनगर रेफर कर दिया है। वही शेष घायलों को छतरपुर आपातकालीन वार्ड में इलाज चल रहा है.

घटना के संबंध में बताया जाता है कि छत्तरपुर थाना क्षेत्र के बाघमारा गांव के रहने वाले राम सुंदर यादव और राजेंद्र यादव के बीच करीब 5 कट्ठा जमीन को लेकर कई सालों से विवाद चलता आ रहा था। जिससे एक पक्ष ने उक्त जमीन पर जबरन कब्जा करने के लिए खेत पर पहुचा और अपने गांव के ही रहने वाले दूसरे पक्ष के लोग आपस में भीड़ गए। उसके बाद दोनों पक्षों में जमकर निशाना साधते हुए लाठी डंडे से मारपीट किया जहां एक दूसरे को जमकर मारपीट में घायल हुए लोगों को छतरपुर अनुमंडलीय अस्पताल इलाज के लिए भेजा है

घायलों का इलाज जारी: दो गुटों के बीच हुए मारपीट में रामसुंदर यादव ,शिव यादव,मनोज यादव, अशोक यादव,लालदेव यादव
मुकेश यादव,ललिता देवि
दूसरे पक्ष राजेन्द्र यादव,
बुधाई यादव, प्रवेश यादव
निरंजन यादव,पप्पू यादव,असरेश यादव
गंभीर रूप से जख्मी हो गए. सभी का इलाज छत्तरपुर अस्पताल के आपातकालीन वार्ड में चल रहा है. जहां चार लोगों का गंभीर अवस्था को देखते हुए चिकित्सकों ने इलाज के लिए मेदिनीनगर सदर अस्पताल भेज दिया है वहीं इस घटना को लेकर छतरपुर पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि घटना की सूचना उन्हें मिली है. जिसकी जांच की जा रही है. जांच पड़ताल किए जाने के बाद जल्द ही इस मामले में कार्रवाई की जाएगी. समाचार लिखे जाने तक मामले में दोनों पक्षों के बीच लिखित आवेदन थाने को नहीं दिया है

Related posts

प्रखण्ड स्तर पर मनाया स्पोर्ट्स दिवस

Nitesh Verma

युवा महावीर मंडल ने रामभक्तों के बीच किया 151 महावीरी पताकों का वितरण

Nitesh Verma

जेसीआई एक्सपो उत्सव का हुआ समापन, मुख्य अतिथि के रुप में शामिल हुई अंसुता लकड़ा

Nitesh Verma

Leave a Comment