बोकारो

बोकारो : शौर्य दिवस पर याद किये गए देश के वीर सपूत

डिजिटल डेस्क

बोकारो (ख़बर आजतक) : आज ही के दिन 16 दिसम्बर 1971 को भारत के ज़ाबाज़ सैनिकों ने पाकिस्तान के ढाका शहर पर कब्जा करके बांग्लादेश के निर्माण किया था।इस युद्ध मे 93 हज़ार पाकिस्तानी सैनिकों को आत्मसमर्पण करने को मजबूर किया था। बाद में अन्तर्राष्ष्ट्रीय स्तर पर बांग्लादेश को मान्यता मिली ये हमारे देश के ज़ाबाज़ सैनिकों सौर्य ही था। इस युद्ध मे हमारे सैनिक भी शहीद हुए थे।
आज बोकारो के शहीद पार्क में भूतपूर्व सैनिकों ने उन तमाम शहीदों को श्रद्धासुमन अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। इस दौरान बूढ़े हो चुके इन हड्डियों में आज भी देशप्रेम का गजब का ज़ज़्बा देखने को मिला।
पाकिस्तान के साथ हुए युद्ध मे अपने साथियों को खोने का दर्द जहाँ साफ झलक रहा था वही आज भी देश के लिये कुछ भी कर गुजरने का ज़ज़्बा भी दिख रहा था।
पूर्व सैनिक ने पाकिस्तान युद्ध को याद करते हुए बताया कि कैसे उन्हें पाकिस्तान के छाती पर तिरंगा गाड़ देना आदेश मिला था। लगे हाथ उंन्होने चीन के साथ हुए युद्ध को याद करते हुए आज चीन के साथ हो रहे रोज व रोज भिड़ंत को हमेशा के लिए समाप्त करने के लिए प्रधानमंत्री मंत्री से चीन पर चढ़ायी कर देने की बात कही।

Related posts

बोकारो :+गुरुजी स्वामी तेजोमयानंद जी का जन्मदिवस धूमधाम से मनाया गया

Nitesh Verma

बोकारो : सिटी सेंटर के इस नामी मिठाई दूकान मे अपराधियों ने की फायरिंग

Nitesh Verma

बोकारो : समृद्ध राष्ट्र-निर्माण और बेहतर व्यक्तित्व के लिए खेल जरूरी : उपायुक्त

Nitesh Verma

Leave a Comment