झारखण्ड बोकारो राँची विश्व

मौत के बाद चार लोगों की जिंदगी बचा गया BSL के रिटायर्ड कर्मी का बेटा सुशांत

रिपोर्ट : नितेश वर्मा

बोकारो (ख़बर आजतक) : बोकारो स्टील प्लांट से रिटायर कर्मी सुरेंद्र कुमार सिंह के 30 वर्षीय पुत्र सुशांत कुमार सिंह ने अंगदान करते हुए चार लोगों को नई जिंदगी दी है. उन्होंने अपने सभी अंगो और टिश्यू का दान किया और चार परिवारों को जीवन का अमूल्य उपहार देकर उनके बीच खुशियों की बौछार की. दरअसल, सुशांत की मौत ब्रेन हेमरेज के कारण हुई थी. और दुनिया से जाते-जाते उन्होंने अपनी अंगों को दान कर दिया.

सुशांत के परिवार ने अपने साहसिक फैसले और उसके अंगों को दान करने की एक अनूठी मिशाल लोगों के सामने पेश की है. 30 वर्षीय सुशांत कुमार सिंह अपने नेत्र के ऊतक भी दान कर चुके थे. उनके इस पुनीत कार्य से 4 लोगों की जिंदगियां बचाई गई हैं. अंग ट्रांसप्लांट से जिन चार लोगों को नई जिंदगी मिली है उनमें एक नाबालिग, 50 साल की दो महिलाएं और एक 40 वर्ष का व्यक्ति शामिल है. सुशांत के पिता सुरेंद्र कुमार सिंह बोकारो स्टील प्लांट से रिटायर्ड के बाद वर्तमान में अब वे रांची में निवास करते हैं.जानकारी देते हुए सुशांत के पिता ने बताया कि सुशांत BIT Mesra से इंजीनियरिंग की पढ़ाई की थी और अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद वह लंदन में फेसबुक में कार्यरत थे. और लंदन में रहते हुए ही सुशांत की ब्रेन हेमरेज से मौत हो गई थी. सुशांत की मौत के बाद परिवार के लोगों ने उसके सभी अंगों को दान करने की इच्छा जाहिर की. ताकि इससे कई लोगों को नया जीवन मिले साथ ही उन्हें यह लगे कि बेटे का अंग आज भी किसी को जीवन दे रहा है.

Related posts

डीएवी-6 की छात्रा अभिनेत्रा व सिद्धि का 31 राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस एवं 26वाँ बाल अधिकार कांग्रेस 2023 में चयन |

Nitesh Verma

पलामू के रामगढ़ थाना अंतर्गत अनिष्का मोबाइल स्टोर से अवैध विदेशी शराब जप्त, विक्रेता गिरफ्तार

Nitesh Verma

इंडिगो ने देवघर से राँची और पटना विमान सेवा शुरु करने की तिथि व समय ‐ सारिणी घोषित की

Nitesh Verma

Leave a Comment