राँची

राँची : कांग्रेस बीजेपी के बताए हुए मार्ग पर चलने का कार्य कर रही है : विजय शंकर नायक

डिजिटल डेस्क

रांची (ख़बर आजतक) : झारखंड में कांग्रेस दलित एवं मुस्लिम विरोधी पार्टी के रूप में कार्य कर रही है । जिसका ही उदाहरण है की झारखंड मे जिला अध्यक्षों के मनोनयन पर एक भी मुस्लिम एवं दलित समाज के नेताओं को जगह नहीं दिया गया और 24 जिलों में एक भी दलित समाज का अध्यक्ष या मुस्लिम समाज के नेताओ को अध्यक्ष पद मे मनोनयन नहीं करना इस बात का घोतक है की कांग्रेस बीजेपी के बताए हुए मार्ग पर चलने का कार्य कर रही है । सभी दलित मुस्लिम कांग्रेस के नेताओं से अपील किया गया कि वे कांग्रेस पार्टी से अविलंब इस्तफा देने का कार्य कर झारखंड में कांग्रेस और बीजेपी मुक्त राज स्थापना में अपना ऐतिहासिक भूमिका निभाने का काम करें ।
उपरोक्त बातें आज झारखंडी सूचना अधिकार मंच के केंद्रीय अध्यक्ष हटिया विधानसभा क्षेत्र के पूर्व प्रत्याशी सामाजिक कार्यकर्ता विजय शंकर नायक ने आज कांग्रेस के 24 जिला के अध्यक्षों के मनोनयन पर आज अपनी प्रतिक्रिया में उक्त बातें कहीं ।इन्होंने यह भी कहा झारखंड कांग्रेस के प्रभारी अविनाश पांडे आरपीएन सिंह के तर्ज पर काम कर रहे हैं और वह अपने स्वजातीय लोगों को ज्यादा से ज्यादा जिला अध्यक्ष बनाने के काम में लगे हुए हैं और दलित आदिवासी और मुस्लिमों की घोर उपेक्षा करने का कार्य कर रहे हैं जिससे ऐसा प्रतीत होता है कि वह भी भविष्य में जिस तरह आरपीएन सिंह भारतीय जनता पार्टी की प्राथमिक सदस्यता ग्रहण किए थे उसी तरह लगता है कि भविष्य में अविनाश पांडे भी भाजपा की सदस्यता ग्रहण करेंगे ।
श्री नायक ने कांग्रेस अध्यक्ष से मांग किया की वे अविलंब झारखंड के कांग्रेस प्रभारी के कार्यकलापों पर नजर रखें और उन्हें तत्काल झारखंड के कांग्रेस प्रभारी के पद से हटाए और उनके द्वारा बनाए गए सभी जिला अध्यक्षों के मनोनयन को रद्द कर सभी वर्गों की भागीदारी सुनिश्चित करें अन्यथा झारखंड में कांग्रेस का सुपाड़ा साफ होने से दुनिया की कोई ताकत नहीं बचा सकती । इन्होंने कांग्रेस के दलित मुस्लिम नेताओं से अपील किया कि वे कांग्रेस से इसतीफा देने का कार्य कर इसका जबरदस्त विरोध करे ।
श्री नायक ने आगे कहा कि कॉन्ग्रेस भी भारतीय जनता पार्टी के नक्शे कदम पर चल चुकी है और वह भी मनुवादियों का पोषण करने पर लगी हुई है और एक ही जाति के लोगों को ज्यादा से ज्यादा जिला अध्यक्ष बनाकर सदियों से शोषित पीड़ित अधिकार से वंचित जमात के उपेक्षित नेताओं को शोषण करने का काम कर रही है तथा उनकी भागीदारी को झारखंड की राजनीति में 0 बटा 0 करने का कार्य कर वह झारखंड में भारतीय जनता पार्टी को मजबूत करने का काम कर रही है । इसका परिणाम आने वाले दिनों में कांग्रेस को झारखंड के दलित मुस्लिम आदिवासी समाज के नेता कभी वोट देने का काम नहीं करेंगे ।

Related posts

राँची: आलोक दूबे के नेतृत्व में कांग्रेसजनों ने केक काटकर मनाया सोनिया गाँधी का जन्मदिन

Nitesh Verma

झारखंड अभिभावक संघ ने झारखंड राज्य बाल संरक्षण आयोग को किया पत्राचार, धनबाद के संत जेवियर्स स्कूल की छात्रा उषा कुमारी का आत्महत्या की जाँच की माँग की

Nitesh Verma

शिक्षा: एसबीयू में जलवायु परिवर्तन और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर संवादात्मक सत्र का आयोजन

Nitesh Verma

Leave a Comment