राँची

राँची: राँची महिला महाविद्यालय में पद्म श्री डॉ गिरिधारी राम गौंझू की जयंती मनाई गई

नितीश_मिश्र

राँची(खबर_आजतक): राँची महिला महाविद्यालय के जनजातीय एवं क्षेत्रीय भाषा विभाग में सोमवार को पद्म श्री डॉ गिरिधारी राम गौंझू का 73वीं जयंती मनाई गई। इस अवसर पर विभाग की अध्यक्ष करमी माँझी ने गौंझू के व्यक्तित्व एवं पर प्रकाश डालते हुए कहा कि डॉ गिरिधारी राम गौंझू बहुत ही सरल स्वभाव के व्यक्ति थे। विधार्थियों के लिए हमेशा समर्पित रहते थे। उनका जीवन भाषा संस्कृति पर काम करतें हुए बीता।

वहीं ‘डॉ पूनम सिंह चौहान ने कहा कि झारखण्ड के जनजातीय एवं क्षेत्रीय भाषाओं के शिक्षक नियुक्ति के लिए हमेशा आवाज उठाते रहें। उनके फलस्वरूप आज भाषा की शिक्षकों की नियुक्ति हो पा रही है।

‘डॉ शैलजा बाला एवं डॉ मंजुलता कुमारी ने भी पद्म श्री डॉ गिरिधारी राम गौंझू से जुड़ी यादें साझा की।

इस अवसर पर विभाग के विधार्थियों के साथ विभाग के अध्यक्ष अलबीना जोजो, डॉ लक्ष्मी पिंगवा, डॉ इंदिरा बिरूआ, जयंती कुमारी, रीता कुमारी, डॉ कंचन वर्णवाल, जयमुनी बडाएउद आदि उपस्थित थे।

Related posts

केंद्रीय सरना समिति व अखिल भारतीय आदिवासी विकास परिषद के पदाधिकारिगण ने किया वीर बुधू भगत की जन्मस्थली सिलागाई का दौरा

Nitesh Verma

दक्षिण झारखण्ड संभाग प्रांतीय खेलकूद प्रतियोगिता में रामगढ़ ओवर ऑल चैम्पियन

Nitesh Verma

राँची: वर्चुअल लैब के माध्यम से सेल्फ लर्निंग को काफी सहायता मिलती है : गोपाल पाठक

Nitesh Verma

Leave a Comment