झारखण्ड बोकारो

वेदांता ईएसएल स्किल स्कूल में प्रशिक्षित 30 सोलर पी वी इंस्टालर ट्रेड छात्रों को किया गया सम्मानित

बोकारो (ख़बर आजतक) : वेदांता समूह की कंपनी ईएसएल स्टील लिमिटेड एक कानून और नैतिक रूप से अनुपालन करने वाला संगठन है। सामुदायिक विकास प्रयासों के प्रति हमारी प्रतिबद्धता के लिए हमें विभिन्न राष्ट्रीय / अंतर्राष्ट्रीय सरकारी संगठनों और गैर सरकारी संगठनों से कई पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है। ईएसएल स्टील लिमिटेड उन क्षेत्रों में समाज और समुदाय के लाभ और कल्याण के लिए अथक प्रयास करता रहा है, है और करता रहेगा। वेदांता ई एस एल स्किल स्कूल में प्रशिक्षित 30 सोलर पी वी इंस्टालर ट्रेड छात्रों को सम्मानित किया गया। इन छात्रों को नाबार्ड के डी जी एम, सुमन एस साहू और ई एस एल स्टील लिमिटेड के सी एस आर उप प्रमुख – राकेश कुमार मिश्रा ने संयुक्त रूप से किया सम्मानित। ई एस एल स्टील लिमिटेड के सी एस आर के तहत संचालित वेदांता ई एस एल स्किल स्कूल में इन 30 उम्मीदवारों को सोलर पी वी इंस्टालर ट्रेड में 6 सप्ताह का गहन प्रशिक्षण दिया गया। यह बैच वेदांता ई एस एल स्किल स्कूल से अपना सोलर पी वी इंस्टालर ट्रेड पाठ्यक्रम सफलतापूर्वक पूरा कर नवीकरणीय ऊर्जा क्षेत्र की अग्रणी कंपनी हैदराबाद स्थित प्रीमियर एनर्जीज में प्लेसमेंट भी हासिल कर लिया है।
इस अवसर पर राकेश कुमार मिश्रा, सी एस आर उप प्रमुख, ई एस एल स्टील लिमिटेड ने कहा कि “वेदांता हमेशा हमारे परिचालन गांवों से युवा प्रतिभाओं के कौशल विकास को विकसित करने में विश्वास करता है। वेदांता ई एस एल कौशल विकास परियोजना के माध्यम से युवाओं को प्रशिक्षित कर उनके उज्जवल भविष्य को आकार देने के प्रति कृतसंकल्पित है। उनको प्रशिक्षित कर आत्मसंबल और आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में सतत प्रयासरत है। सम्मान समारोह में नाबार्ड की सुश्री सेबिका बी. बोरो और फिलमून बिलुंग भी शामिल रही। वेदांता ई एस एल स्किल स्कूल से अभी तक 400 से भी ज्यादा छात्रों ने सफलतापूर्वक ट्रेनिंग प्राप्त किया है। इनमें से 323 लोगों ने विभिन्न जगहों में प्लेसमेंट भी पाया है। वेदांता ई एस एल स्किल स्कूल युवाओं को स्थायी रोजगार के अवसर प्रदान करता है। एल एस डी के साझेदारी में छात्रों को बुनियादी कंप्यूटर ज्ञान के साथ-साथ सोलर पीवी इंस्टालेशन और सिलाई मशीन संचालन जैसे ट्रेडों प्रशिक्षित किया जाता है। यह पाठ्यक्रम एनएसडीसी प्रमाणित हैं। इस परियोजना में प्रशिक्षित 70 प्रतिशत उम्मीदवारों की नियुक्ति का आश्वासन भी दिया जाता है। यहां से प्रशिक्षित लोगों को ब्लू जर्सी गारमेंट्स, अदानी पावर, प्रीमियर एनर्जी आदि कंपनियों में 1.2 – 1.8 लाख प्रति वर्ष के पैकेज के काम करे रहें है। झारखंड के बोकारो जिले के सिवलजोरी गांव में स्थित, ईएसएल स्टील उत्पादों का एक अग्रणी निर्माता है। इसमें 2.5 मिलियन टन प्रति वर्ष (एमटीपीए) ग्रीनफील्ड एकीकृत इस्पात संयंत्र है जो पिग आयरन, बिलेट्स, टीएमटी बार, वायर रॉड और डक्टाइल आयरन पाइप का उत्पादन करता है। संयंत्र निर्धारित पर्यावरण मानकों के साथ तालमेल बिठाकर काम करता है, विश्व स्तरीय सेवाओं और उत्पादों की पेशकश करने के लिए प्रतिष्ठित निर्माताओं से अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञता और समाधान लाता है।
2008 में अपनी स्थापना के बाद से, सोशल एम्पावरमेंट एंड इकोनॉमिक डेवलपमेंट सोसाइटी पिरामिड के मध्य और निचले स्तर के लोगों के जीवन में इंजीनियरिंग परिवर्तनकारी परिवर्तन के लिए प्रतिबद्ध है। यह उन समुदायों को शिक्षा और आर्थिक विकास में स्थायी समाधान प्रदान करके हासिल किया जा रहा है जिनके पास अन्यथा इस तरह के समर्थन तक पहुंच नहीं होती। यह अनुकूलित समाधान प्रदान करता है जिसके परिणामस्वरूप संसाधन अनुकूलन होता है और लोगों, ग्रह और समृद्धि के प्रमुख सिद्धांतों के अनुरूप निवेश पर सामाजिक रिटर्न अधिकतम होता है। सीड्स रणनीति प्रौद्योगिकी और ज्ञान का उपयोग करके नवाचार को बढ़ावा देने वाली प्रकृति-सकारात्मक नीतियों को बढ़ावा देना है।

Related posts

श्री राणी सती मंडल का 42वाँ वार्षिकोत्सव श्रद्धा पूर्वक मनाया गया, 501 महिलाओं ने किया मंगला पाठ

Nitesh Verma

चैत्र नवरात्र में परिवार संग दिउड़ी मंदिर पहुँचे मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन, राज्य की उन्नति, सुख-समृद्धि की कामना की

Nitesh Verma

इक्फ़ाई विश्वविद्यालय, झारखंड को मिला नया कुलपति

Nitesh Verma

Leave a Comment