गोमिया झारखण्ड बोकारो

सरना धर्म कोड की मांग को लेकर तेनुचौक को किया जाम

रिपोर्ट : पंकज सिन्हा

पेटरवार (ख़बर आजतक) : आदिवासी सेंगेल अभियान के राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्व सांसद सालखन मुर्मू के द्वारा पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत आज सरना धर्म कोड की मांग को लेकर 30 दिसंबर भारत बंद को सफल बनाने के लिए आज पेटरवार तेनूचौक को दो घंटे तक जाम कर दिया। इसके पहले आदिवासी सेंगेल अभियान के झारखण्ड प्रदेश अध्यक्ष देवनारायण मुर्मू के नेतृत्व में+2 हाईस्कूल मैदान से झंडा बैनर ले कर जूलूस की शक्ल में सरना धर्म कोड देना होगा, आदिवासी राष्ट्र बनाना होगा, राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू को धर्म कोड देना होगा आदि नारे लगाते हुए तेनूचौक पहुंच कर सड़क को दो घंटे तक जाम कर दिया,जाम के दौरान दोनों और छोटी बड़ी गाड़ियों की लंबी कतारें लग गई, पेटरवार थाना प्रभारी विनय कुमार के द्वारा समझाने बुझाने के बाद सड़क जाम को हटाया गया। प्रदेश अध्यक्ष देवनारायण मुर्मू ने कहा कि हम भारत के लगभग 15 करोड़ आदिवासी हैं, जो अधिकांश आदिवासी हिन्दू, मुस्लिम, सिख, ईसाई आदि नहीं है,हम प्रकृति पूजक हैं।किन्तु अभी तक हमें स्वतंत्र धार्मिक मान्यता यानी सरना धर्म कोड नही मिला है जिसके कारण हमें जबरन हिंदू,मुसलमान,सिख, ईसाई आदि बनाकर धार्मिक गुलामी के लिए मजबूर किया जाता है। इसके लिए केंद्र की दो बड़ी पार्टियां कांग्रेस और बीजेपी दोषी हैं। सबसे पहले कांग्रेस ने 1951 में हमारे धर्म कोड को हटाया,अब बीजेपी जबरन हम आदिवासियों को हिन्दू का ठप्पा लगाना चाहती है। इसलिए सरना धर्म कोड की मांग हमारे अस्तित्व पहचान और हिस्सेदारी का मामला है और यह मांग हमारे संवैधानिक मौलिक अधिकार का मामला भी है। 2011 की जनगणना में 50 लाख आदिवासियों ने सरना धर्म लिखाया था जबकि जैन धर्म लिखाने वालों की संख्या 44 लाख थी।तब भी हमें धार्मिक मान्यता से वंचित करना संवैधानिक अपराध है।सेंगेल किसी पार्टी और उसके वोट बैंक के बदले आदिवासी समाज को बचाने के लिए चिंतित हैं। चुनाव कोई भी जिते आदिवासी समाज की हार निश्चित है। चूंकि किसी भी पार्टी या संगठन के पास आदिवासी एजेंडा नहीं है। फिर भी अभी जो भी पार्टी सरना धर्म कोड देगा आदिवासी उसको वोट देगा। आदिवासी सेंगेल अभियान के साथ पेटरवार छात्र संघ अध्यक्ष रामेश मुर्मू के नेतृत्व में छात्रों ने बंदी के समर्थन, सड़क जाम में शामिल हुए। सड़क जाम में मुख्य रूप से सेंगेल मांझी परगना मंडवा प्रदेश अध्यक्ष चन्द्र मोहन मार्डी, सरना धर्म मंडवा प्रदेश अध्यक्ष रामकुमार मुर्मू, बोकारो जिला महिला मोर्चा अध्यक्ष ललिता सोरेन जिला परगना रामजीत बेसरा, संयोजक रीझू मुर्मू, पेटरवार प्रखण्ड सेंगेल बीडियो विजय कुमार मरांडी,कसमर प्रखंड अध्यक्ष बिशेश्वर मुर्मू, छात्र मोर्चा अध्यक्ष रामप्रसाद सोरेन, चंद्रो किस्कू महादेव किस्कू, मनोज मुर्मू, पेटरवार प्रखण्ड संयोजक हरिश्चंद्र मुर्मू, संजय टुडू, निखिल बास्के, धनीराम मरांडी, चांदमुनी मुर्मू,कपूर मुर्मू,पानमुनी हांसदा, बिरेंद्र हांसदा,बबुचंद मांझी, सावित्री मुर्मू, लीला मुर्मू सहित सैकड़ों कार्यकर्ता नेता गण शामिल थे।

Related posts

बोकारो : दो दिवसीय जूडो चैंपियनशिप का शुभारम्भ

Nitesh Verma

बोकारो स्टील प्लांट ने भिलाई में आयोजित प्रतिष्ठित सेल स्वर्ण जयंती क्विज जीता..

Nitesh Verma

चंद्रपूरा : झामुमों नेता अब्बास खान को गोली मारने वाले अपराधियों पुलिस नें धर दबोचा

Nitesh Verma

Leave a Comment