झारखण्ड राँची

सरला बिरला ने सीसीएल के संयोजन से किया सतर्कता जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन

हम स्वयं ईमानदार रहेंगे तभी देश के प्रति सोच पाएँगे: पंकज कुमार

नितीश_मिश्र

राँची(खबर_आजतक): फैकल्टी ऑफ़ कॉमर्स एंड बिज़नेस मैनेजमेंट, सरला बिरला विश्वविद्यालय ने सतर्कता जागरुकता कार्यक्रम का आयोजन कोल फील्ड इंडिया लिमिटेड के संयोजन से किया। इस कार्यक्रम का आयोजन बी के बिरला ऑडिटोरियम में किया गया।

इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सीसीएल के मुख्‍य सतर्कता अधिकारी पंकज कुमार, विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. गोपाल पाठक, कुलसचिव प्रो. विजय कुमार सिंह, डीन डॉ. संदीप कुमार,कॉमर्स एंड मैनेजमेंट संकाय, शशांक शरण, सीसीएल द्वारा संयुक्त रुप से दीपप्रज्वलन, दीपवंदन एवं विश्वविद्यालय के कुलगीत के साथ समारोह का शुभारंभ किया गया।

इस दौरान बतौर मुख्य अतिथि सीसीएल के मुख्‍य सतर्कता अधिकारी पंकज कुमार ने सर्वप्रथम छात्रों को स्वयं के प्रति ईमानदार होने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि अगर हम खुद के प्रति ईमानदार रहेंगे तभी देश के प्रति सोच पाएँगे। उन्होंने छात्रों को उनके द्वारा प्रस्तुत किए गए नृत्य नाटक आदि को असल ज़िंदगी में भी स्वीकारने की सलाह दी। उन्होंने जागरुकता कार्यक्रम का महत्व बताते हुए कहा कि सभी लोग इस तरह के कार्यक्रम का हिस्सा बन सके इसलिए जागरूकता अनिवार्य है। उन्होंने युवाओं को प्रेरित करते हुए उन्हें जागरूक कराया कि अब वह समय आगया है कि हमारा भारत देश अब एक विकसित राष्ट्र के रूप में उभर कर आए। छात्रों एवं सभी उपस्थित दर्शक को भ्रष्टार के ख़िलाफ़ शिक़ायत दर्ज करने की प्रक्रिया बतायी। छात्रों को कार्यक्रम में भाग लेने के लिए सहृदय बधाई दी।

वहीं विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. गोपाल पाठक ने बड़े हर्ष और उल्लास के साथ कहा कि आज का युवा जागरूक है। उन्होंने मुख्य अतिथि पंकज कुमार उनकी पूरी टीम का तहे दिल शुक्रिया किया। उन्होंने छात्रों को पीसीआई इंडेक्स के बारे में ज़्यादा से ज़्यादा जानकारी प्राप्त करने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने इतिहास कई झलकियों को दर्शकों के साझा कर यह बतलाया कि भारत देश एक सच्ची निष्ठा और परंपरा का देश रहा है।उन्होंने युवा पीढ़ी को इतिहास के बारे में ज़्यादा से ज़्यादा जानने और अपने जड़ो से जुड़े रहने के लिए प्रेरित किया। सभी छात्रों को कार्यक्रम की बधाई देते हुए अपनी वाणी को विराम दिया।

इस दौरान विश्वविद्यालय के मुख्य कार्यकारी पदाधिकारी डॉ. प्रदीप वर्मा ने फैकल्टी ऑफ़ कॉमर्स एंड बिजनेस मैनेजमेंट के प्रयासों की सराहना करते हुए छात्रों से भ्रष्टाचार जैसी बुराई से दूर रहने का आह्वान किया।

इस कार्यक्रम में उपस्थित विश्वविद्यालय के कुल सचिव प्रो. विजय कुमार सिंह ने सभी को इस कार्यक्रम के लिए बधाई दी। उन्होंने प्रतियोगिताओं में छात्रों द्वारा प्रदर्शित किये गए प्रतिभाओं की दिल से सराहना की और कहा कि छात्रों के प्रतिभाओं से ये साफ़ होता है कि उन्हें इस बात की जागरुकता है की हमारा देश तभी तरक़्क़ी करेगा जब हम भ्रष्टाचार मुक्त हो जाएँ। उन्होंने कई उदाहरणों से ये सिद्ध किया की देश की सफलता के लिए भ्रष्टाचार से मुक्ति अनिवार्य है। छात्रों को समाज में बदलाव लाने के लिए प्रेरित करते हुए अपनी वाणी को विराम दिया।

कॉमर्स एंड मैनेजमनेट संकाय के डीन डॉ. संदीप कुमार ने सर्वप्रथम सीसीएल राँची को इस संगठन के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने इस संगठन के फलदायक परिणाम की कामना करते हुए यह भी कहा कि छात्रों को इसका लाभ एक बेहतर समाज का निर्माण करने में अवश्य मिलेगा। उन्हींने ने सभी छात्रों को कार्यक्रम में उत्साह के साथ भाग लेने के लिए तहे दिल से शुभकामनाएँ दी।

इस कार्यक्रम में फ़ैकल्टी ऑफ़ ह्युमैनिटीज़ एंड लिंग्विस्टिक्स एंड योगिक साइंस एंड नैचुरोपैथी एंड परफ़ॉर्मिंग आर्ट्स की डीन प्रो. नीलिमा पाठक ने उपस्थिस सभी दर्शकों को भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ प्रतिज्ञा दिलाई।

इस कार्यक्रम में छात्रों को विभिन्न प्रतियोगिताओं के माध्यम से अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करने का अवसर मिला।

इस सतर्कता जागरुकता कार्यक्रम में “से नो टू करप्शन,कमिट टू नेशन” के थीम पर रंगोली, पोस्टर पेंटिंग, डिबेट, इलोक्यूशन, ऐड कॉम्प, नृत्य, संगीत, नुक्कड़ नाटक एवं नाटक जैसे विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया।

इस कार्यक्रम का संचालन सहायक प्राध्यापिका डॉ. अंजलि श्रीवास्तव एवं सहायक प्राध्यापक डॉ. संदीप चौधरी ने किया।

वहीं पुरस्कार वितरण का संचालन सहायक प्राध्यापिका प्रो. एलजी हनी सिंह ने किया।

इस दौरान धन्यवाद ज्ञापन की औपचारिकता सहायक प्राध्यापिका डॉ. पूजा मिश्रा के द्वारा पूरी की गई।

इस अवसर पर हरी बाबू शुक्ला, डॉ. सुबनी बाड़ा, डॉ. राधा माधव झा, डॉ. रिया मुखर्जी, प्रो. राहुल वत्स , डॉ. अशोक कुमार अस्थाना, प्रो. अमित गुप्ता, फ़ैकल्टी ऑफ़ कॉमर्स एंड बिज़नेस मैनेजमेंट के सभी शिक्षक,सीसीएल के कर्मचारीगण,विश्वविधालय के अन्य कर्मचारीगण और काफी संख्या में छात्र-छात्राएँ उपस्थित थे।

Related posts

राँची: अभाविप के राष्ट्रीय महामंत्री याज्ञवल्क्य शुक्ल के राँची आगमन पर भव्य स्वागत : अभाविप

Nitesh Verma

भारत विकास परिषद के ‘भारत को जानो’ प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम का सफल आयोजन

Nitesh Verma

बोकारो : महाराणा प्रताप के आदर्शो को आत्मसात करें युवा: धर्मवीर

Nitesh Verma

Leave a Comment