झारखण्ड राँची राजनीति

सांसद सेठ के सवाल पर केंद्रीय मंत्री प्रतिमा भौमिक का जवाब

देश के वृद्ध आश्रम में रह रहे हैं 18080 वरिष्ठ नागरिक: प्रतिमा भौमिक

झारखंड में 200 वरिष्ठ नागरिक वृद्ध आश्रम में रहते हैं: प्रतिमा भौमिक

नितीश_मिश्र

राँची(खबर_आजतक): सांसद संजय सेठ के प्रश्न पर केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्यमंत्री प्रतिमा भौमिक ने मंगलवार को बताया कि वरिष्ठ नागरिकों के आश्रय, पोषण, चिकित्सा देखभाल और मनोरंजक कार्यकलाप जैसी सुविधाओं के साथ भारत में 601 वृद्ध आश्रमों का नि:शुल्क संचालन किया जा रहा है। इसका संचालन विभिन्न स्वयंसेवी संस्थाओं के द्वारा किया जाता है। इन आश्रमों में 18080 वरिष्ठ नागरिक रह रहे हैं। सांसद संजय सेठ ने सरकार से यह सवाल पूछा था कि देश के वृद्ध आश्रमों में रह रहे वृद्ध लोगों की वर्तमान संख्या कितनी है ? झारखंड में कितने वृद्ध आश्रम संचालित किए जा रहे हैं ? इसके लिए कितनी धनराशि जारी की गई है ? इसके जवाब में केंद्रीय मंत्री ने बताया कि देश के सभी राज्यों में 601 वृद्धाश्रम संचालित किए जा रहे हैं जिसमें झारखंड में 4 वृद्धाश्रम संचालित हैं। देवघर, पश्चिम सिंहभूम, पूर्वी सिंहभूम और सरायकेला खरसावाँ में इन वृद्ध आश्रमों का संचालन नि:शुल्क रूप से किया जा रहा है। झारखंड के 4 वृद्ध आश्रमों में 200 वरिष्ठ नागरिक रह रहे हैं जबकि उड़ीसा जैसे छोटे से राज्य में 79 वृद्ध आश्रम हैं, जहाँ 2100 वरिष्ठ नागरिक रहते हैं। इसके अलावा आँध्र प्रदेश में 1850, तमिलनाडु में 1820 और महाराष्ट्र में 1525 वरिष्ठ नागरिक वृद्ध आश्रमों में रह रहे हैं।

केंद्रीय मंत्री प्रतिमा भौमिक ने लोकसभा में सांसद संजय सेठ को बताया कि झारखंड में विगत 2 वर्षों में लगभग ₹92 लाख वृद्ध आश्रमों के संचालन के लिए जारी किए गए हैं। वृद्ध आश्रम का संचालन अनुदान के रुप में दिए गए पैसे से किया जाता है। यह राशि सरकार के द्वारा एनजीओ को उपलब्ध कराई जाती है।

सांसद संजय सेठ के सवाल के जवाब में केंद्रीय मंत्री प्रतिमा भौमिक ने बताया कि मंत्रालय के द्वारा अटल बायो अभ्युदय योजना के तहत एकीकृत वरिष्ठ नागरिक कार्यक्रम का कार्यान्वयन किया जा रहा है। इसी के तहत वरिष्ठ नागरिकों को एनजीओ या स्वैच्छिक संगठनों के माध्यम से वृद्ध आश्रम में रहने की सुविधा प्रदान की जाती है। जहाँ उनकी हर सुख सुविधा का ख्याल भी रखा जाता है।

Related posts

हटिया एर्नाकुलम स्पेशल ट्रेन खुलने के समय परिवर्तन को लेकर अरुण जोशी ने रेल विभाग को लिखा पत्र

Nitesh Verma

गोमिया : टापू सा जीवन जी रहे हैं जमुआ बेड़ा के ग्रामीण,लगातार हो रही भारी बारिश से डूबा नाला का जलस्तर ऊफान पर

Nitesh Verma

यदि मौका मिला तो पूरे जिला व प्रखंड स्तर पर व्यापारियों एवं उद्यमियों के विकास को गति देने के लिए कार्य करुँगा: किशोर मंत्री

Nitesh Verma

Leave a Comment