झारखण्ड राँची राजनीति

आँगनबाड़ी केद्रों को मिलने वाला चावल गटक गए थे अधिकारी, विधायक कमलेश सिंह की पहल पर हुई कार्रवाई

आँगनबाड़ी केंद्रों को उपलब्ध कराया गया नवनिहालों का चावल: कमलेश सिंह

नितीश_मिश्र

राँची/हरिहरगंज(खबर_आजतक): बालविकास परियोजना हरिहरगंज अंतर्गत 136 आँगनबाड़ी केंद्रों को उपलब्ध हुआ प्रथम तिमाही का चावल अधिकारियों ने मिलकर गायब कर दिया था। हरिहरगंज हुसैनाबाद विधानसभा क्षेत्र के विधायक कमलेश कुमार सिंह के पहल पर हरिहरगंज प्रखंड के आँगनबाड़ी केंद्रों का वित्तीय वर्ष 2022-23 के प्रथम तिमाही का चावल 136 आँगनबाड़ी केंद्रों तक आनन फानन में दिया गया। यह चावल आँगनबाड़ी केंद्रों में तीन से छह वर्ष तक के नामांकित बच्चों को खिचड़ी देने के लिए आँगनबाड़ी केंद्रों को उपलब्ध कराना था। इसके लिए 341.30 क्विंटल चावल आवंटित किया गया था। परंतु चावल किसी भी आँगनबाड़ी केंद्र को नहीं दिया गया था। इस मामले को हरिहरगंज- हुसैनाबाद विधायक कमलेश कुमार सिंह ने विभागीय मंत्री रामेश्वर उराँव के समक्ष उठाया था। जिस पर उपायुक्त ने जाँच दल का गठन कर जाँच कराया था। जाँच रिपोर्ट में आवंटन के बावजूद आँगनबाड़ी केंद्र को चावल नहीं देने का खुलासा हो गया। उपायुक्त ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए दोषी अधिकारियों के खिलाफ सरकार को पत्र लिख दिया है।

विधायक कमलेश कुमार सिंह ने जब विधानसभा प्रश्न डाला तो आनन फानन में आँगनबाड़ी केंद्रों की सेविका को चावल उपलब्ध कराया गया। विधानसभा में प्रश्न डालने के बाद पूरा महकमा सक्रिय हो गया। विधानसभा में विधायक कमलेश कुमार सिंह ने खाद्यान्न गबन करने संबंधी आवाज जोरदार ढंग से उठने का काम किया था।विधायक के सवाल उठने के बाद सक्रिय हुआ विभाग सभी आँगनबाड़ी केंद्रों को खाद्यान्न उपलब्ध कराया। इस मामले में संबंधित अधिकारियों के खिलाफ राज्य सरकार को प्रतिवेदन भेजा गया है।

इस दौरान आनन फानन में खाद्यान्न उपलब्ध कराने के समय बीडीओ जयप्रकाश नारायण, सीओ वासुदेव राय, एडीएसओ निर्मल कुमार सिंह, एनसीपी प्रखंड अध्यक्ष मनीष कुमार सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष अखिल कुमार मेहता सहित आँगनबाड़ी सेविका सहायिका मौजूद थें।

Related posts

बोकारो :पुलिस को आता देख अवैध लोहा लदा पिकअप वैन छोड़ चालक हुआ फरार..

Nitesh Verma

महिला सशक्तिकरण हेतू महिला सम्मान पत्र घोषणा स्वागतयोग्य : ज्योति कुमारी

Nitesh Verma

झारखंड शराब व्यापारी संघ ने राज्य सरकार से की माँग, कहा ‐ राज्य में वित्तीय वर्ष में राजस्व की काफी नुकसान को देखकर उत्पाद विभाग को 100% सुरक्षित राजस्व देने हेतू झारखंड शराब व्यापारी संघ तैयार

Nitesh Verma

Leave a Comment