राँची

समस्त भक्तगण यहाँ सेमिनार के आदी, भगवान के नहीं : सदगुरु रितेश्वर

नितीश_मिश्र

राँची(खबर_आजतक): नंदन पैलेस में आयोजित हनुमंत कथा रहस्यम् पाठ के तीसरे दिन सदगुरु रितेश्वर महाराज ने अपने आशीष वचनों से अपने श्रद्धालुओं को संबोधित किया और भगवान का उद्घोष से पूरा माहौल भक्तिमय हो उठा।

हनुमंत कथा रहस्यम् पाठ के तीसरे दिन सदगुरु रितेश्वर महाराज ने अपने मुखारविंद से श्रद्धालुओं को पाठ के माध्यम से कहा कि ज्ञान के बिना मुक्ति नहीं मिल सकती। हनुमान चालीसा व्यापक ग्रंथ है। इसके श्रवण करने से हनुमान जी के भक्तों को व्यापक लाभ मिलता है। मनुष्य को कथा ध्यानपूर्वक सुनना चाहिए क्योंकि गुरु अगर कुछ देने का कोशिश कर रहा है तो उसे ग्रहण करना चाहिए।

इस दौरान कथा में उन्होंने कहा कि सभी भक्त यहाँ सेमिनार के आदि हो गए है भगवान के नहीं, शिष्य और गुरु का रिश्ता बाण के जैसा होता है। हनुमान जी ने रावण को हमेशा स्वामी कहा कभी अपशब्द नहीं बोला। हनुमान जी सद्गुरु है और शिव के रुद्र अवतार भी है।

झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमिटी के उपाध्यक्ष प्रदीप तुलस्यान, प्रोफेशनल कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष आदित्य विक्रम जायसवाल, अजय सिंह राठौर, विवेक सिंह, बबलू शुक्ला, रवि छपड़िया, अनिकेत, विनीत जयसवाल, अनिल सिंह, अमरजीत सिंह, प्रेम कुमार आदि उपस्थित थे।

Related posts

कमलेश सिंह ने किया गया वादा निभाया, छठ घाट पर डीप बोरिंग व मोटर की गई व्यवस्था

Nitesh Verma

हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को नोटिस जारी कर पूछा खरकई डैम परियोजना बंद करने का कारण

Nitesh Verma

डॉ भूपेश पर्यटन विशेषज्ञ के रूप में झारखंड बजट पूर्व कार्यशाला में हुए सम्मिलित

Nitesh Verma

Leave a Comment